लाइव टीवी
Elec-widget

7 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए फोर्टिस के पूर्व प्रमोटर मलविंदर सिंह

News18Hindi
Updated: November 24, 2019, 3:26 AM IST
7 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए फोर्टिस के पूर्व प्रमोटर मलविंदर सिंह
फोर्टिस हेल्थकेयर और दवा कंपनी रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मलविंदर मोहन सिंह (फाइल फोटो)

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (RFL) के कोष के कथित गबन के संबंध में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2019, 3:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फोर्टिस हेल्थकेयर (Fortis Healtcare) और फार्मा कंपनी रैनबैक्सी (Ranbaxy) के पूर्व प्रमोटर मलविंदर सिंह (Malvinder Singh) और रेलीगेयर (Religare) इंटरप्राइजेज लिमिटेड के पूर्व सीएमडी सुनील गोधवानी (Sunil Godhwani) को दिल्ली की एक अदालत ने मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में 7 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

इससे पहले, अदालत ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मलविंदर सिंह और सुनील गोधवानी की ईडी हिरासत की अवधि सोमवार को 23 नवंबर तक बढ़ा दी थी.

क्या है मामला
बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) के कोष के कथित गबन के संबंध में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था.
Loading...

हाल ही में ईडी ने किया था गिरफ्तार
हाल ही में मलविंदर सिंह को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार किया था. ईडी ने रेलिगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) घोटाला मामले में ये कार्रवाई की थी. रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (RFL) रेलिगेयर एंटरप्राइजेज की सब्सिडियरी है. मलविंदर सिंह और उनके भाई शिविंदर रेलिगेयर एंटरप्राइजेज के भी पूर्व प्रमोटर हैं.

ये भी पढ़ें-

NCP के एक और विधायक नितिन पवार हुए लापता, बेटे ने दर्ज कराई शिकायत

महाराष्ट्र: देर रात BJP नेताओं के साथ वकीलों के पास पहुंचे अजित पवार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 2:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...