आध्‍यात्मिक विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के लिए हाईकोर्ट ने दिया आदेश

एमसीडी की ओर से कोर्ट में कहा गया कि जब एमसीडी के अधिकारी उस विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के लिए पहुंचे तो उस पर रोहिणी कोर्ट से स्‍टे ले लिया गया. जिसके चलते अधिकारी बिना उसे तोड़े लौट आए.

News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 3:42 PM IST
आध्‍यात्मिक विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के लिए हाईकोर्ट ने दिया आदेश
दिल्‍ली हाईकोर्ट ने दिए आध्‍यात्मिक विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के आदेश.
News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 3:42 PM IST
दिल्‍ली में ढोंगी बाबा वीरेंद्र दीक्षित के विजय विहार स्थित आध्‍यात्मिक विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के लिए दिल्ली हाई कोर्ट ने एमसीडी अधिकारियों को आदेश दिया है. हाईकोर्ट ने एमसीडी को जरूरी कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया है.

मामले की सुनवाई के दौरान एमसीडी की ओर से कोर्ट में कहा गया कि जब एमसीडी के अधिकारी उस विश्‍वविद्यालय को तोड़ने के लिए पहुंचे तो उस पर रोहिणी कोर्ट से स्‍टे ले लिया गया. जिसके चलते अधिकारी बिना उसे तोड़े लौट आए. इस पर हाईकोर्ट ने कहा कि वीडियो और फोटो में दिखाई दे रहा है कि बिल्डिंग अवैध है. लिहाजा आगे की कार्रवाई की जाए.

दिल्‍ली हाईकोर्ट ने जिला अदालत को भी आदेश जारी कर कहा कि जल्‍द से जल्‍द मामले का निपटारा किया जाए. बता दें कि सीबीआई ने कोर्ट से कहा कि वो मामले में चार्जशीट दायर कर चुकी है. 47 गवाहों के बयान भी लिए जा चुके हैं.

दिल्‍ली के अलावा यूपी में भी निकले ढोंगी बाबा के आश्रम

कुछ दिन पहले ढोंगी बाबा वीरेंद्र दीक्षित के आध्यात्मिक ईश्वरीय विश्वविद्यालय पर छापेमारी के बाद उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में भी उनके आश्रम पर पुलिस ने छापेमारी की. छापेमारी में पुलिस को आश्रम में कई तहखाने मिले. पुलिस ने बालिग और नाबालिग कुल 53 महिलाओं को भी बरामद किया.

दिल्ली में आश्रम से छुड़ाई गई लड़कियों के बाद से ही बाबा फरार है. सूचना मिली थी कि बाबा फर्रुखाबाद के आश्रम में छिपा है. इसके बाद एसपी ने 100 से अधिक पुलिस फोर्स के साथ सिकत्तर बाग और कम्पिल के आश्रम में एक साथ छापेमारी की. हालांकि वह वहां भी नहीं मिला.

ये भी पढ़ें
Loading...

दिल्‍ली में कनाडाई नागरिक से टैक्‍सी चालक ने की लूट, तलाश जारी

NDMC ने स्‍कूलों का नाम बदलकर किया अटल आदर्श विद्यालय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 15, 2019, 3:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...