लाइव टीवी

जानलेवा हुई दिल्ली की जहरीली हवा, ऑफिसों की टाइमिंग बदलने की तैयारी

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 11:55 AM IST
जानलेवा हुई दिल्ली की जहरीली हवा, ऑफिसों की टाइमिंग बदलने की तैयारी
गुरुवार सुबह इंडिया गेट के पास का नजारा. यह इलाका भी स्‍मॉग में लिपटा रहा.

दिल्ली (News Delhi) की जहरीली होती हवा को देखते हुए अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की सरकार सभी सरकारी कार्यालयों की टाइमिंग बदलने पर विचार कर रही है. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) का एयर क्वालिटी इंडेक्स (Air Quality Index- AQI) खराब होता जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 11:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (News Delhi) की जहरीली होती हवा को देखते हुए अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की सरकार सभी सरकारी कार्यालयों की टाइमिंग बदलने पर विचार कर रही है. सरकार से जुड़े सूत्रों ने बताया कि दिल्ली सरकार काफी करीब से दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के एयर क्वालिटी इंडेक्स (Air Quality Index- AQI) पर नजर बनाए हुए है. अचानक हवा में पीएम 2.5 की मात्रा बढ़ने से सरकार के वरिष्ठ अधिकारी तमाम विकल्पों पर विचार कर रहे हैं.

दिल्ली एनसीआर में बुधवार की तरह ही गुरुवार को भी धूल और धुंध छाई रही. इसके साथ ही शहर की वायु गुणवत्ता भी 'बहुत खराब' की श्रेणी में पहुंच गई. कनॉट प्लेस (इनर सर्कल) पर एक्यूआई का स्तर 391 दर्ज किया गया. कार्यालय जाने वाले लोगों ने बताया कि हवा इतनी खराब है कि सांस लेने में भी दिक्कत हो रही है. एक्यूआई बिगड़ने से सांस लेने में दिक्कत और कफ की समस्या आम हो जाती है. जहरीली होती हवा के बाद लोग मॉर्निंग वॉक पर जाने से भी बचते नजर आए.



ऐसा नहीं है कि दिन की शुरुआत से ही एक्यूआई खराब रहा. सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक AQI की स्थिति बेहतर थी. मौसम विभाग के अनुसार, रात से ही चल रही हवा के कारण वायु गुणवत्ता में सुधार हुआ था. बुधवार को बहुत खराब स्थिति में पहुंच चुका एक्यूआई गुरुवार सुबह मध्यम श्रेणी का दर्ज हुआ. दिल्ली के मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम और इंडिया गेट के आसपास के इलाकों में एक्यूआई में पीएम 2.5 की मात्रा 177 थी.
Loading...

बुधवार को जहरीली धुंध छाई रही
एक दिन पहले यानी बुधवार को दिल्ली के कई इलाकों में धुंध छाई रही और वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' की श्रेणी में रही. दिल्ली सरकार ने वायु गुणवत्ता का स्तर गिरने के पीछे मुख्य वजह पड़ोसी राज्यों में पराली जलाए जाने को बताया जो अक्टूबर-नवंबर में हर साल होता है. 15 अक्टूबर से 15 नवंबर का समय बहुत अहम माना जाता है जब पंजाब और आसपास के राज्यों में पराली जलाने की सर्वाधिक घटनाएं सामने आती हैं. यह दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रदूषण बढ़ने का सबसे प्रमुख कारण है.



7-8 महीने से अच्छी थी दिल्ली की वायु गुणवत्ता
दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा, 'दिल्ली में वायु गुणवत्ता पिछले 7-8 महीने से अच्छी या मध्यम स्थिति में थी, लेकिन अब प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ गया है. साफ तौर पर प्रदूषण में आकस्मिक बढ़ोतरी बाहर से आ रहे धुएं के कारण हुई है.'

दृश्यता भी घट गई थी
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, बुधवार को दिल्ली का एक्यूआई शाम चार बजे 304 के स्तर पर रहा. 10 मिलीमीटर से कम व्यास वाले पार्टिकुलेट कण प्रदूषण के लिए मुख्य रूप से जिम्मेदार हैं. मंगलवार को एक्यूआई 270 थी. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि सघन धुंध की वजह से बुधवार को सफदरजंग में दृश्यता शाम 5:50 बजे 1800 मीटर हो गई जो मंगलवार को शाम 5:30 बजे 2200 मीटर थी.

सबसे ज्यादा 351 पर रहा एक्यूआई
मुंडका में एक्यूआई 351, द्वारका सेक्टर 8 में 365, दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी में 331, आनंद विहार में 342, वजीरपुर में 337, रोहिणी में 329, बवाना में 349, अशोक विहार में 329, नेहरू नगर में 330 और जहांगीरपुरी में 328 रही. इनके अलावा अलीपुर (315), नरेला (341), विवेक विहार (336), सिरी फोर्ट (332), सीआरआरआई - मथुरा रोड (312), ओखला फेज 2 (314) और आईटीओ (309) में भी बहुत खराब वायु गुणवत्ता रही.

एक्यूआई 0 से 50 के बीच होने पर ‘अच्छा’ होता है, जबकि 51 से 100 के बीच होने पर ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 और 500 के बीच होने पर उसे ‘गंभीर’ समझा जाता है.

(इनपुट भाषा से)

ये भी पढ़ें-

महिलाओं के बाद अब CM केजरीवाल ने ऑड-ईवन स्कीम से इनको दी छूट

पराली के धुएं से ऐसे घुट रहा है दिल्ली-NCR का गला, सामने आई NASA की तस्वीरें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 11:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...