लाइव टीवी

फिर स्मॉग की जद में दिल्ली, AQI में रिकॉर्ड गिरावट

News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 11:27 AM IST
फिर स्मॉग की जद में दिल्ली, AQI में रिकॉर्ड गिरावट
पराली जलाने के चलते ‌आने वाले दो दिनों में दिल्ली-एनसीआर का प्रदूषण स्तर 6 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा. (फाइल फोटो)

पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में नहीं रुक रहे पराली जलाने के मामले, आने वाले समय में और खराब हालात होने की आशंका.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 11:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में सोमवार की सुबह लोगों की शुरुआत स्मॉग (Smog) के साथ हुई. राजधानी के कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 239 का स्तर छू गया. इनमें सबसे ज्यादा खराब हाल जहांगीरपुरी, पंजाबी बाग और वजीरपुर का रहा. aqicn.org से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक ही दिन में राजधानी का एयर क्वालिटी इंटेडक्स खराब की कैटेगरी में आ गया. गौरतलब है कि aqicn.org 60 से ज्यादा देशों का रियल टाइम एयर क्वालिटी इंडेक्स चैक करती है और उससे संबंधित डाटा उपलब्‍ध करवाती है.

कहां कैसा रहा हाल
जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह रोहिणी में 207, द्वारका में 194, पूसा रोड पर 182, मंदिर मार्ग पर 179, नोएडा सेक्टर 62 में 217, नोएडा सेक्टर 125 में 202, गाजियाबाद में 252, आनंद विहार में 218, पटपड़गंज में 189 का एयर क्वालिटी इंडेक्स सामने आया. वहीं केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार रविवार को आनंद विहार का एयर क्वालिटी इंडेक्स 327, वजीरपुर का 323, विवेक विहार का 317, मुंडका का 309, बवाना का 302 और जहांगीरपुरी का 300 का स्तर छू गया था. गौरतलब है कि 0 से 50 के बीच एयर क्वालिटी इंडेक्स अच्छा माना जाता है, वहीं 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 सामान्य, 201 से 300 खराब, 301 से 400 बहुत खराब, 401 से 500 खतरनाक की श्रेणी में रखा जाता है.

पंजाब और हरियाणा में पराली जलाना शुरू

जानकारी के अनुसार पंजाब और हरियाणा के कुछ इलाकों में किसानों ने पराली जलाना शुरू कर दिया है. इस संबंध में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी तक प्रदूषण को नियंत्रित करने के प्रयास खत्म होते दिख रहे हैं. हमें दिल्ली के लिए बहुत कुछ करना है और हम कर भी रहे हैं. इसके लिए जरूरी है कि सभी राज्य सरकारें और एजेंसियां फसलों के जलाने की प्रक्रिया को बंद करवाएं.

करनाल में सबसे ज्यादा जलाई जा रही पराली
सीएम केजरीवाल ने कहा कि अभी तक सामने आया है कि दिल्ली में आने वाला प्रदूषण हरियाणा के करनाल में जलाई जा रही पराली के चलते हो रहा है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में शनिवार से ही प्रदूषण का स्तर बढ़ना शुरू हो गया था और इसका मुख्य कारण भी यही था.
Loading...

दो दिनों में 6 प्रतिशत तक बढ़ेगा प्रदूषण
पराली जलाने के चलते ‌आने वाले दो दिनों में दिल्ली-एनसीआर का प्रदूषण स्तर 6 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा. इसके बाद से ही ग्रेडेड रेस्पॉन्स एक्‍शन प्लान की एक टीम हरकत में आ गई. जीआरएपी की एक टीम ने इस संबंध में शुक्रवार को भी एक बैठक की. इस बैठक के बाद वरिष्ठ वैज्ञानिक वी के सोनी ने बताया कि अभी मानसून के खत्म होने के साथ ही हवाएं शांत हैं. हवा की दिशा भी पश्चिम और उत्तर पश्चिम की तरफ है. ऐसे में प्रदूषण के कारक इतनी जल्दी खत्म नहीं होंगे.

पंजाब में 45 प्रतिशत तक पराली जलाने के मामले बढ़े
एक रिपोर्ट के अनुसार इस साल हरियाणा में पराली जलाने के मामलों में काफी कमी आई है. वहीं पंजाब में यह मामले रिकॉर्ड बढ़े हैं. 11 अक्टूबर तक के आंकड़ेां पर नजर डाली जाए तो पराली जलाने के मामलों में 45 प्रतिशत तक का उछाल आया है.

ये भी पढ़ेंः दिवाली से पहले दिल्ली की हवा में घुला 'जहर', हालात और बिगड़ने की आशंका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गाजियाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 10:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...