लाइव टीवी

Delhi-NCR Pollution: प्रदूषण पर PMO ने राज्यों के साथ की बैठक, हरियाणा के स्कूल 5 नवंबर तक बंद

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 11:30 PM IST

Delhi-NCR Pollution LIVE: नोएडा, गाजियाबाद और उसके आसपास के इलाकों में AQI रविवार दोपहर 1600 के पास पहुंच गया. इस बढ़ते वायु प्रदूषण की वजह से गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद के डीएम ने जिले के सभी सरकारी तथा प्राइवेट स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद करने का आदेश दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 11:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली- एनसीआर (Delhi-NCR) में शनिवार शाम और रविवार सुबह हुई बारिश (Rain) का भी प्रदूषण (Pollution) पर असर देखने को नहीं मिल रहा है और यह लगातार बढ़ता ही जा रहा है. दिल्ली-एनसीआर में कई जगहों पर वायु गुणवत्ता का इंडेक्स 900 के पार कर गया. वहीं दिल्ली से सटे गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद जिले में प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए मंगलवार तक के लिए सभी स्कूलों को बंद करने का निर्देश दिया है.

दिल्ली-एनसीआर में फैले भयंकर प्रदूषण के चलते हरियाणा शिक्षा विभाग ने राज्य के सभी प्राइवेट, सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों को 4 और 5 नवंबर को बंद रखने का आदेश दिया है.



वहीं लगातार बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिए रविवार को पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उच्च स्तरीय बैठक की. जानकारी के मुताबिक कैबिनेट सचिव दैनिक आधार पर प्रदूषण की स्थिति की निगरानी करेंगे. वहीं राज्य के मुख्य सचिवों को चौबीस घंटे-सातों दिन अपने जिलों की निगरानी करने के लिए कहा गया है.
Loading...

दिल्ली में लगातार बढ़ते प्रदूषण से बचने के लिए दिल्ली सरकार ने आम लोगों के लिए हेल्थ एजवायज़री जारी की है. इस एडवायज़री में लोगों को बताया गया है कि प्रदूषण से बचने के लिए उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए.



दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है. एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) के आंकड़ों के अनुसार, प्रमुख प्रदूषक पीएम 2.5 500 और पीएम 10 500 पर, लोधी रोड क्षेत्र में 'गंभीर' श्रेणी में बने हुए हैं.



नोएडा, गाजियाबाद और उसके आसपास के इलाकों में AQI रविवार दोपहर 1600 के पास पहुंच गया. इस बढ़ते वायु प्रदूषण की वजह से गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद के डीएम ने जिले के सभी सरकारी तथा प्राइवेट स्कूलों को 5 नवंबद तक बंद करने का आदेश दिया है. वायु प्रदूषण के कारण दिल्ली से विमान की आवाजाही पर भी असर पड़ा है.



इस बीच दोपहर 12 बजे के करीब नोएडा में वायु गुणवत्ता का इंडेक्स (AQI) 1600, गाजियाबाद में 1563 और लोनी देहात में 1413 पर पहुंच गया.

बता दें कि एक्यूआई 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘अत्यंत खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर’ माना जाता है.

उधर दिल्ली स्थित आईजीआई एयरपोर्ट की तरफ से बयान जारी कर कहा गया, 'कम दृश्यता के कारण दिल्ली एयरपोर्ट पर विमानों का परिचालन प्रभावित हुआ है. यहां टर्मिनल-3 से विमानों की आवाजाही पर असर पड़ा है. 37 फ्लाइट्स को जयपुर, अमृतसर और  लखनऊ डायवर्ट किया गया.'



दिल्ली स्थित अरुण जेटली स्टेडियम में आज भारत और बांग्लादेश के बीच पहला टी-20 मैच खेला जाना है. हालांकि कोहरे के कारण इस मैच पर भी खतरे के बादल मंडराते दिख रहे हैं.



इससे पहले पंजाबी बाग (Punjabi Bagh) और नरेला क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) सबसे ज्यादा रिकॉर्ड किया गया है. रविवार सुबह छह बजे इन दो इलाकों में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 999 दर्ज किया गया. कहा जा रहा है कि सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाने के बाद भी इन इलाकों में कंस्ट्रक्शन (Construction) का कार्य जारी था. अधिकारियों ने कंस्ट्रक्शन करने के आरोप में 38 लोगों को गिरफ्तार किया है. वहीं सरकार ने बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए नोएडा (Noida) और ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के स्कूलों को भी अनिवार्य तौर पर 5 नवंबर तक के लिए बंद कर दिया है.

गिरता जा रह हवा का स्तर
सूत्रों के मुताबिक, पंजाबी बाग और नरेला के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) के सकारात्मक संकेत नहीं दिखे हैं. बवाना में AQI सुबह 7 बजे 999 था, जबकि रोहिणी में 967, पूसा में 947, आईटीआई पूसा में 943 और मेजर ध्यानचंद स्टेडियम के पास पूसा में 930 रिकॉर्ड किया गया.

बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली सरकार ने दावा किया था कि मलबे और कचरे के जलकर बनने वाले प्रदूषण में 44 प्रतिशत की कमी आई है. इसके बावजूद भी प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया. वहीं, एक दिन पहले, मौसम विशेषज्ञों ने कहा था कि हवा की गति में एक महत्वपूर्ण सुधार हुआ है और यह धीरे-धीरे बढ़ेगा. उन्होंने कहा था कि रविवार से मंगलवार तक 20-25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है.

7-8 नवंबर को दिल्ली सहित 3 राज्यों में बारिश होने की संभावना
मेट्रो कार्यालय ने कहा कि चक्रवात ’महा’ और ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली में 7-8 नवंबर को बारिश होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि हालांकि हल्की बारिश होगी लेकिन यह प्रदूषण के स्तर को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. इस साल पहली बार गुरुवार रात दिल्ली में एक्यूआई बेहद गंभीर स्तर पर पहुंच गया था. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी ट्वीट कर हरियाणा और पंजाब में पराली जलाने से होने वाले धुंए की वजह से दिल्ली के गैस चेंबर में तब्दील होने की बात कही थी.

पांच नवम्बर तक रहेंगे स्कूल बंद
राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकार पहले ही पांच नवंबर तक सभी स्कूलों के बंद रहने का एलान कर चुकी है. पांच नवंबर तक सभी प्रकार के निर्माण कार्यों पर भी रोक लगा दी गई है. पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम व नियंत्रण) प्राधिकरण (ईस्टरए) ने दिल्ली-एनसीआर में पब्लिक हेल्‍थ इमरजेंसी की घोषणा भी की है.


ये भी पढ़ें-
हरियाणा में नेता विपक्ष पर 2 धड़ों में बंटी कांग्रेस, सोनिया का हुड्डा पर मुहर


जेएनयू में रूम रेंट हुआ महंगा, छात्रों को अब महीने में देना होगा इतना किराया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 6:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...