दिव्यांग की गांजा तस्करी के तरीके को देखकर पुलिस भी रह गई हैरान

हर रोज वाहनों की चेकिंग कराई जाती. मुखबिरों का जाल भी फैलाया गया. लेकिन गांजा तस्कर भी शातिर था. महीनों की कवायद के बाद भी वो पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ रहा था.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 7:54 AM IST
दिव्यांग की गांजा तस्करी के तरीके को देखकर पुलिस भी रह गई हैरान
प्रतीकात्मक फोटो- दिल्ली पुलिस ने जो दिव्यांग पकड़ा है वो वैसाखी से गांजे की तस्करी करता था.
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 7:54 AM IST
दिल्ली के मंडावली इलाके में गांजे की तस्करी हो रही थी. कई-कई किलो गांजा इलाके में बिक रहा था. महीनों से दिल्ली पुलिस गांजा तस्कर की तलाश में लगी हुई थी. हर रोज वाहनों की चेकिंग कराई जाती. मुखबिरों का जाल भी फैलाया गया. लेकिन गांजा तस्कर भी शातिर था. महीनों की कवायद के बाद भी वो पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ रहा था.

लेकिन खबर पक्की थी. 30 साल का एक युवक बाहर से गांजा लाकर मंडावली में छोटे-छोटे सप्लायर को माल दे रहा था. थोड़ी सी और माथा पच्ची के बाद पुलिस को खबर मिली कि गांजा तस्कर दिव्यांग है. उसका एक पैर खराब है. वो वैसाखी का सहारा लेकर चलता है.

अब पुलिस ने मंडावली के ऐसे दिव्यांगों पर नज़र रखनी शुरु की जो वैसाखी का सहारा लेकर चलते थे. ऐसे तीन लोगों पर 24 घंटे निगाह रखी जाने लगी. दिन और रात की उनकी एक-एक हरकत नोट होने लगी. किससे मिलते हैं, कहां-कहां जाते हैं, कौन-कौन और कैसे कार से या बाइक से मिलने आता है.

प्रतीकात्मक फोटो- पक्की सूचना के बाद भी पुलिस दिव्यांग गांजा तस्कर को नहीं पकड़ पा रही थी.


लेकिन पुलिस की मेहनत बेकार होती नज़र आ रही थी. बस एक ऐसा दिव्यांग था जिस पर पुलिस को शक हो रहा था, लेकिन कोई सबूत नहीं मिल रहा था. इस दिव्यांग से मिलने हर दो-तीन दिन बाद एक कार आती थी. दिव्यांग उस कार में जाता और पांच मिनट बाद ही वापस आ जाता. लेकिन उसके हाथ में कुछ भी नहीं होता.

पुलिस ने एक-दो बार तलाशी भी ली, लेकिन उसके पास से कुछ नहीं मिला. एक दिन मुखबिर की निगाह दिव्यांग के कार में बैठने से पहले कार के अंदर रखी वैसाखी पर पड़ी. इसी कड़ी से पुलिस को सारा माजरा समझ में आ गया.

एक दिन जैसे ही दिव्यांग कार से उतरा तो पुलिस ने उसकी वैसाखी की तलाशी ली. तलाशी में वैसाखी के अंदर से 100-100 ग्राम के गांजे की 20 पुड़िया मिलीं. पुड़िया वैसाखी के खोखले पाइप में भरी गईं थी. पुलिस ने शनिवार को गांजा तस्कर दिव्यांग को गिरफ्तार कर लिया है.
Loading...

ये भी पढ़ें- देश के पहले मुस्लिम एयर फोर्स चीफ जिन्होंने 1971 में पाक को सिखाया सबक

जन्मदिवस विशेष: आर्मी के इस मुसलमान अफसर से डरती थी पाकिस्तानी सेना, रखा था 50 हजार का इनाम 
First published: July 29, 2019, 7:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...