ATM क्लोनिंग गैंग का खौफ, एक झटके में ऐसे उड़ाया 88 लोगों का पैसा

पुलिस के मुताबिक, ये गैंग दिल्ली के तिलक नगर इलाके में 2 एटीएम से एक हफ्ते के अंदर ठगी की 88 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुका है.

News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 3:29 PM IST
ATM क्लोनिंग गैंग का खौफ, एक झटके में ऐसे उड़ाया 88 लोगों का पैसा
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 3:29 PM IST
दिल्ली पुलिस ने एटीएम के जरिए ठगी करने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया है. ये गैंग लोगों की मेहनत की कमाई को पलक झपकते ही गायब कर देता था और लोगों को जब तक भनक लगती उनका बैंक एकाउंट खाली हो चुका होता था. पुलिस ने बताया कि ये गैंग स्किमिंग के जरिए एटीएम कार्ड क्लोनिंग करके पूरी घटना को अंजाम दिया करता था.

पुलिस के मुताबिक, ये गैंग दिल्ली के तिलक नगर इलाके में 2 एटीएम से एक हफ्ते के अंदर ठगी की 88 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुका है. इसके अलावा भी दूसरे शहरों में भी ये लोग सैंकड़ों वारदात कर चुके हैं. पुलिस ने बताया कि नजफगढ़ का रहने वाला धर्मेंद्र सैनी इस गैंग का मास्टरमाइंड है. उसके तीन साथी सिद्धार्थ, सुनील कुमार और मंयक सक्सेना को भी गिरफ्तार किया गया है.



ATM क्लोनिंग गैंग


सीसीटीवी कैमरों पर करते थे स्प्रे

ये लोग ठगी करने के लिए ये ऐसे एटीएम को चुनते थे जहां गार्ड तैनात न हों, फिर आरोपी मयंक शुक्ला सबसे पहले पहुंचकर एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरों पर स्प्रे कर देता था. फिर ये लोग एटीएम कार्ड लगाने वाली जगह पर स्किमिंग मशीन लगा देते थे. इसके बाद जैसे ही कोई अपना एटीएम कार्ड लगाता तो उसका पूरा डेटा कॉपी हो जाता था.

कैसे करते थे स्किमिंग?
पश्चिमी दिल्ली की डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि ये लोग ठगी करने के लिए ऐसे ATM को चुनते थे, जहां गार्ड तैनात न हों, फिर आरोपी मयंक शुक्ला सबसे पहले पहुंचकर एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरों पर स्प्रे कर देता था. जिसके बाद कुछ कैमरों में कुछ स्पष्ट नहीं दिखाई पड़ता था. फिर ये लोग एटीएम कार्ड लगाने वाली जगह पर स्किमिंग मशीन लगा देते थे. इसके बाद जैसे ही कोई अपना एटीएम कार्ड लगाता तो उसका पूरा डेटा कॉपी हो जाता था.
Loading...

क्लोनिंग के जरिए बनाते थे नया ATM कार्ड
डीसीपी ने कहा कि इसके बाद ये लोग लैपटॉप के जरिए प्लेन कार्ड को क्लोनिंग के जरिए नया एटीएम कार्ड तैयार कर लेते थे. इसके बाद पैसे निकाल लेते थे. पूछताछ के दौरान यह भी पता चला कि ये जहां पर स्किमिंग मशीनें लगाते थे, वहां से पैसे नहीं निकालते थे, बल्कि किसी दूसरी जगह से निकालते थे. खास कर उन एटीएम को टारगेट करते थे, जहां पर गार्ड नहीं होते थे.

300 प्लेन ATM कार्ड बरामद
पुलिस ने गैंग के पास से 300 प्लेन ATM कार्ड, क्लोनिंग मशीन और ठगी करने का अन्य सामान बरामद किया है. इनके पास से 16 लाख कैश भी मिले हैं. हैरत की बात ये है कि इन लोगों ने स्किमिंग मशीन और प्लेन कार्ड एक बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से मंगाया था. फिलहाल में पुलिस इस मामले में आरोपियों से पूछताछ कर और जानकारी इकट्ठी कर रही है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...