दिल्ली-NCR की रेव पार्टियों में इस देश से आ रही है करोड़ों की ड्रग्स

पिछले एक सप्ताह से गुजरात, पं बंगाल, हरियाणा और महाराष्ट्र में ड्रग्स के बड़े-बड़े रैकेट का भंडाफोड़ हो रहा है. अगर बात करें दिल्ली-एनसीआर की तो यहां पर भी बीते एक सप्ताह में 1320 करोड़ रुपए की ड्रग्स के साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है.

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 6:53 PM IST
दिल्ली-NCR की रेव पार्टियों में इस देश से आ रही है करोड़ों की ड्रग्स
दिल्ली-एनसीआर में अफगानिस्तान से ड्रग्स भेजे जाने का सिलसिला लगातार जारी है
Ravishankar Singh
Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 6:53 PM IST
दिल्ली-एनसीआर में अफगानिस्तान से ड्रग्स भेजे जाने का सिलसिला लगातार जारी है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल अफगान से भारत लाई जा रही हेरोइन की एक के बाद एक खेप पकड़ने में लगी हुई है. शनिवार को भी दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर अगस्त क्रांति एक्सप्रेस से ड्रग्स की एक बड़े खेप के साथ दो लोगों को गिफ्तार किया है.

ड्रग्स के बड़े-बड़े रैकेट का भंडाफोड़

पिछले कुछ दिनों से देश के अलग-अलग हिस्सों से ड्रग्स के बड़े-बड़े रैकेट का भंडाफोड़ हो रहा है. खासतौर पर पिछले एक सप्ताह में गुजरात, पं बंगाल, हरियाणा और महाराष्ट्र से ड्रग्स के बड़े-बड़े रैकेट का फंडाफोड हो रहा है. अगर बात करें दिल्ली-एनसीआर की तो यहां पर भी बीते एक सप्ताह में 1320 करोड़ रुपए की ड्रग्स  के साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल नार्को ड्रग्स रैकेट को लेकर लगातार छापेमारी कर रही है.

बीते एक सप्ताह में 1320 करोड़ की ड्रग्स के साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है
बीते एक सप्ताह में 1320 करोड़ की ड्रग्स के साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है


बीते शुक्रवार को भी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने राजधानी में चल रही हेरोइन की अवैध फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया था. शनिवार को पकड़ी गई खेप अब तक की सबसे बड़ी खेप कही जा रही है. इसकी कीमत तकरीबन 520 करोड़ रुपए बताई जा रही है.

बीते शुक्रवार को ही महाराष्ट्र के नवी मुंबई से भी दिल्ली पुलिस की निशानदेही पर 520 करोड रुपए की हेरोइन की एक बड़ी खेप बरामद की गई थी, जिसमे दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था. शुक्रवार को नवी मुंबई से गिरफ्तार दो शख्स में से एक दिल्ली के जामिया नगर का रहने वाला है तो दूसरा कंधार अफगानिस्तान का रहने वाला है.

जूट के बोरे में छुपाकर लाया जा रहा है ड्रग्स
Loading...

दिल्ली पुलिस के मुताबिक ड्रग्स की कई खेप ईरान के बंदर अब्बास पोर्ट से भारत लाई जा रही है. ड्रग्स की खेप को जूट के बोरे में छुपाकर लाया जा रहा है. शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जिस फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया था वहां पर ड्रग्स को बनाने का कारोबार चल रहा था. करीब 260 जूट के बोरे में यह ड्रग्स मिली थी.

बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली भी अब नशे के काले कारोबार में डूब चुका है. दिल्ली-एनसीआर भी अब नशा कारोबारियों के लिए महफूज जगह बनता जा रहा है. शुक्रवार को स्पेशल सेल ने दिल्ली में चल रही हेरोइन की जिस अवैध फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया था, उसके लिंक तालिबान तक से जुड़ने की खबर आ रही है.

अफगान कनेक्शन से आने वाला ड्रग्स का यह रैकिट भारत में अब तक 5 हजार करोड़ रुपए तक की हेरोइन ला चुका है.
अफगान कनेक्शन से आने वाला ड्रग्स का यह रैकिट भारत में अब तक 5 हजार करोड़ रुपए तक की हेरोइन ला चुका है.


स्पेशल सेल का कहना है कि अफगान कनेक्शन से आने वाला ड्रग्स का यह रैकिट भारत में अब तक  5 हजार करोड़ रुपए तक की हेरोइन ला चुका है. खास बात यह है कि ड्रग्स को बहुत ही शातिराना तरीके से खाली बोरियों के जरिए अफगान से दिल्ली लाया जा रहा है.

अफगानिस्तान से इंपोर्ट करके दिल्ली लाई जाने वाली जीरे की बोरियों में हेरोइन की स्मगलिंग की जाती हैं. जूट की बोरियों को अफगानिस्तान में ही लिक्विड हेरोइन में भिगा दिया जाता है. बाद में उन बोरियों के सूख जाने के बाद बोरियों में जीरा भरकर भारत भेजा जाता है.

सूखी बोरियों को भिगाया जाता है

भारत आने के बाद उन बोरियों को दिल्ली के जाकिर नगर स्थित फैक्ट्री या देश के कुछ अन्य राज्यों के फैक्ट्रियों में ले जाकर नए तरीके से बनाए जाते हैं. पहले सूखी बोरियों को भिगाया जाता है फिर गीली बोरियों को सुखाकर इनके रेसों में चिपटी हेरोइन को खास तकनीक से पाउडर रूप में बदला जाता है.

ड्रग्स को बहुत ही शातिराना तरीके से खाली बोरियों के जरिए अफगान से दिल्ली लाया जा रहा है
ड्रग्स को बहुत ही शातिराना तरीके से खाली बोरियों के जरिए अफगान से दिल्ली लाया जा रहा है


दिल्ली पुलिस के मुताबिक जूट की एक बोरी से कम से कम एक किलो हेरोइन निकलती है. एक खाली बोरी की कीमत करीब चार करोड़ रुपए की हो जाती है. दिल्ली पुलिस का कहना है कि बोरियों में हेरोइन की स्मगलिंग करने का यह तरीका एकदम नया और हैरान करने वाला है.

ड्रग्स की लत से पिछले कुछ सालों से पंजाब सबसे ज्यादा पीड़ित राज्य रहा है. अब ड्रग्स की लत से हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड जैसे राज्य भी बेहाल हो रहे हैं. ऐसे में दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा में पिछले कुछ दिनों से ड्रग्स की बड़ी खेप मिलने से चिंताएं बढ़ गई हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए पिछले दिनों इस समस्या से जूझ रहे सभी राज्य एक ठोस नतीजा निकालने के लिए बैठक किए हैं. बीते 25 जुलाई को चंडीगढ़ में आयोजित की गई इस कॉन्फेंस में ड्रग उन्मूलन पर चर्चाएं की ही गईं साथ ही इससे निपटने के लिए सुझाव भी रखे गए. ऐसे में देखना है कि आने वाले कुछ दिनों में ड्र्ग्स की समस्या को दूर करने के लिए क्या कदम उठाए जाएंगे?

ये भी पढ़ें:

क्या हथियारों से रुक सकती है मॉब लिंचिंग, कानून के जानकारों की ये है राय

कम पैसे में भी आप बन सकते हैं अपने मां-बाप के श्रवण कुमार

अब FIR के लिए आपको नहीं जाना पड़ेगा थाने, पुलिस खुद आएगी आपके पास

 एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp
First published: July 27, 2019, 5:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...