लाइव टीवी

पुलिस-वकील बवाल: दिल्ली पुलिस ने गृह मंत्रालय को सौंपी रिपोर्ट

भाषा
Updated: November 5, 2019, 7:43 PM IST
पुलिस-वकील बवाल: दिल्ली पुलिस ने गृह मंत्रालय को सौंपी रिपोर्ट
शनिवार को तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकील आपस में भिड़ गए थे. इस घटना में कम से कम 20 सुरक्षाकर्मी और कई वकील घायल हुए. (फाइल फोटो)

वकीलों (Lawyers) और दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के बीच तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) में हुई हिंसक झड़प का मुद्दा गरमाता जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार (Central Government) दिल्ली की स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए है, जहां तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) परिसर में वकीलों (Lawyers) और पुलिस (Police) के बीच हुए टकराव के मद्देनजर कुछ पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों ने विरोध प्रदर्शन कर न्याय की मांग की. इस बीच, दिल्ली पुलिस (Delhi) ने मंगलवार को तीस हजारी अदालत में वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच हुए टकराव के संबंध में गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) को एक रिपोर्ट सौंपी.

शनिवार को तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकील आपस में भिड़ गए थे. दोनों के बीच मामला इतना बढ़ गया कि पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. इसके बाद वकीलों ने पुलिस वाहनों को आग लगा दी थी और जमकर तोड़फोड़ की थी. इस घटना में कम से कम 20 सुरक्षाकर्मी और कई वकील घायल हुए.

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'हम दिल्ली के हालात पर बारीकी से नजर बनाए हुए हैं. एक न्यायिक जांच के आदेश दिए गए हैं. जांच के नतीजे आने दीजिए.'

दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा रविवार को घटना की जांच के आदेश दिए गए और छह दिन के भीतर रिपोर्ट जमा की जानी है.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट के बारे में बताया कि यह एक तथ्यात्मक रिपोर्ट है, जिसमें दिल्ली पुलिस ने शनिवार की घटना की परिस्थितियों और उसके बाद की गई कार्रवाई का विवरण दिया है. उन्होंने कहा कि इस रिपोर्ट में शनिवार के बाद हुई घटनाओं को शामिल नहीं किया गया है, जैसे सोमवार को हुई एक घटना, जिसमें वकीलों के एक समूह ने साकेत कोर्ट के बाहर एक पुलिसकर्मी के साथ मारपीट की.

पुलिस मुख्यालय के बाहर पुलिसकर्मियों का प्रदर्शन
इन घटनाओं के बाद सैकड़ों पुलिस कर्मचारी मंगलवार को यहां पुलिस मुख्यालय के बाहर विरोध में एकत्र हुए. पुलिसकर्मियों ने तख्तियां ले रखी थीं जिन पर लिखा था, 'पुलिस वर्दी में हम इंसान हैं' और 'रक्षा करने वालों को सुरक्षा की जरूरत.' पुलिसकर्मी आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर जमा हुए और उन्होंने अपने वरिष्ठों से अनुरोध किया कि वर्दी का सम्मान बचाने की खातिर वे उनके साथ खड़े रहें.
Loading...

ये भी पढ़ें-

दिल्ली पुलिस का सड़कों पर उतरना, भारत के लिए एक ‘नई गिरावट’ है: कांग्रेस

Delhi Police Protest: विरोध प्रदर्शन के चलते इन रास्तों पर लगा भारी जाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 7:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...