लाइव टीवी

Delhi Police Protest: बार काउंसिल के इस ठोस कदम से आज निपट सकता है दिल्ली पुलिस-वकील विवाद

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 9:45 AM IST
Delhi Police Protest: बार काउंसिल के इस ठोस कदम से आज निपट सकता है दिल्ली पुलिस-वकील विवाद
बार काउंसिल ऑफ इंडिया के फैसले के बाद जिला अदालतों की कॉर्डिनेशन कमेटी के पदाधिकारियों की आपात बैठक मंगलवार की शाम को हुई. (File Photo)

Delhi Police Vs Lawyers: बार काउंसिल ऑफ इडिया (Bar Council of India) ने दिल्ली (Delhi) की सभी बार एसोसिएशनों (Bar Association) को तत्काल प्रभाव से हड़ताल समाप्त करने और हिंसा रोकने के निर्देश दिए हैं. साथ ही ये भी साफ किया है कि अगर दिल्ली की बार एसोसिएशन ऐसा नहीं करती हैं तो बार काउंसिल इस मामले में खुद को पीछे कर लेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 9:45 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मंगलवार को हुई बार काउंसिल ऑफ इंडिया (Bar Council of India) और दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) बार एसोसिएशन की बैठक के बाद आज यानी बुधवार को दिल्ली पुलिस (Delhi Police)-वकील विवाद निपट सकता है. बार काउंसिल ने कार्रवाई करने के मकसद से मारपीट की घटनाओं में शामिल आरोपी वकीलों पर कार्रवाई के लिए उनके नाम मांगे हैं. सोमवार को अदालतों में हड़ताल के दौरान वकीलों द्वारा पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों के साथ मारपीट की घटनाएं हुईं थी. इसमें पुलिसकर्मियों सहित ऑटो चालक और महिला पत्रकार के साथ भी हाथापाई की गई थी. मारपीट की कुछ घटनाओं के वीडियो वायरल होने के बाद बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने इस मामले को गंभीरता से लिया है.

बार काउंसिल के अध्यक्ष मनन कुमार की ओर मंगलवार को सभी बार एसोसिएशन की आपात बैठक बुलाई गई थी. इसमें आरोपी वकीलों के नाम मांगे गए और उनके खिलाफ कठोर कदम उठाने की बात कही गई. सभी बार एसोसिएशन को कड़े शब्दों में निर्देश दिए गए कि वो तत्काल प्रभाव से काम पर लौटें और सभी घटनाओं पर पूर्ण रूप से रोक लगाएं.



पुलिस के खिलाफ कार्रवाई न होने तक हड़ताल तोड़ने से किया इनकार
Loading...

बार काउंसिल ऑफ इंडिया के फैसले के बाद जिला अदालतों की कॉर्डिनेशन कमेटी के पदाधिकारियों की मंगलवार की शाम आपात बैठक हुई. इस बैठक में बार काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा दिए गए निर्देशों पर कॉर्डिनेशन कमेटी ने आपत्ति जताई. हालांकि, हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने निर्देशों का समर्थन किया. कॉर्डिनेशन कमेटी का कहना है हम न्याय दिलवाने वाले हैं और अब हम खुद अपने लिए न्याय की मांग कर रहे हैं. बार काउंसिल ऑफ इंडिया की ओर से जारी निर्देशों का पालन कॉर्डिनेशन कमेटी तब तक नहीं कर सकती, जब तक इस घटना में शामिल आरोपी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता.

ये भी पढ़ें :

वकीलों के खिलाफ सड़क पर उतरी दिल्ली पुलिस, कहा- जब हम ही सुरक्षित नहीं, दूसरों की रक्षा क्या करेंगे

निर्भया केस: दोषियों ने राष्ट्रपति को नहीं भेजी दया याचिका, जल्द शुरू होगी फांसी की तैयारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 8:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...