EPCA की मांग, दिल्ली में फैक्ट्रियों के कोल और बायोमास इस्तेमाल पर लगे बैन

ईपीसीए ने मांग की है कि दिल्ली में कारखानों के बायोमास और कोल के इस्तेमाल पर बैन लगे और 12 नवंबर तक दिल्ली में कंस्ट्रक्शन के काम बंद रहें.

News18Hindi
Updated: November 10, 2018, 5:37 PM IST
EPCA की मांग, दिल्ली में फैक्ट्रियों के कोल और बायोमास इस्तेमाल पर लगे बैन
EPCA की मांग, दिल्ली में फैक्ट्रियों के कोल और बायोमास इस्तेमाल पर लगे बैन (सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: November 10, 2018, 5:37 PM IST
एनवायरमेंट पॉल्यूशन(प्रिवेंशन एंड कंट्रोल) अथॉरिटी(EPCA) ने दिल्ली चीफ सेक्रेटरी को पत्र लिखकर प्लास्टिक फैक्ट्री कॉम्प्लेक्स सहित मुंडका औद्योगिक क्षेत्र को 12 नवंबर तक बंद करने का निर्देश दिया है. पत्र में कहा गया है कि औद्योगिक क्षेत्र में बहुत सारे अपशिष्ट मिले हैं जो प्रदूषण को बढ़ावा दे रहे हैं. इसके साथ-साथ कोयला और बायोमास (ईंट भट्टियों सहित) उद्योगों पर प्रतिबंध लगाने की बात भी कही गई है.

ईपीसीए  ने दिल्ली के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर बताया है कि मुंडका इंडस्ट्रियल एरिया में प्लास्टिक फैक्ट्री कॉम्प्लेक्स को 12 नवंबर तक बंद रखा जाएगा. ईपीसीए ने मुंडका एरिया में विजिट के दौरान पाया कि क्षेत्र में इंडस्ट्रियल कचरे अवैध तरीके से फेंके गए हैं. मुंडका में कारखानों के चलते प्रदूषण का स्तर सबसे ज्यादा है.

(ये भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट के मानक निर्धारित आदेश के बाद भी दिवाली में दिल्ली का प्रदूषण आंकड़ा हुआ दोगुना)

Loading...
(ये भी पढ़ें- 'बदतर' से 'भयावह' हुई दिल्ली की आबोहवा, तस्वीरों में देखें हाल)

ईपीसीए ने मांग की है कि दिल्ली में कारखानों के बायोमास और कोल के इस्तेमाल पर बैन लगे और 12 नवंबर तक दिल्ली में कंस्ट्रक्शन के काम बंद रहें.

(ये भी पढ़ें- इस दिवाली दिल्ली के नज़दीक पहुंच गया दून... प्रदूषण 10 गुना से ज़्यादा रहा)
Loading...

और भी देखें

Updated: November 15, 2018 08:10 AM ISTकुतुब मीनार से डबल है इस ब्रिज की ऊंचाई
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर