वर्ल्ड क्लास बताए गए दिल्ली के राजकीय स्कूल में छात्र पर गिरा पंखा, सिर फटा

दिल्‍ली के राजकीय विद्यालय त्रिलोकपुरी का छात्र है पीड़ित, हादसे के बाद से जीटीबी अस्पताल में भर्ती. इधर, मनोज तिवारी ने सिसोदिया पर साधा निशाना, कहा- ये कैसी वर्ल्ड क्लास कक्षा का निर्माण किया है.

News18Hindi
Updated: July 12, 2019, 3:44 PM IST
News18Hindi
Updated: July 12, 2019, 3:44 PM IST
दिल्ली के स्कूलों को लेकर आप सरकार के बड़े बड़े दावों की पोल उस समय खुल गई जब एक सरकारी स्कूल में बच्चे के सिर पर चलता हुआ पंखा गिर गया. हादसे के बाद बच्चे को काफी चोट आई और उसे अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा है. बताया जा रहा है कि इस संबंध में मासूम के पिता ने शिकायत भी दर्ज करवाई है. बच्चे की पहचान हर्ष के तौर पर हुई है और वह दिल्ली के राजकीय विद्यालय त्रिलोकपुरी का छात्र है. 13 साल के हर्ष के सिर पर पंखा मंगलवार दोपहर में गिरा जब कक्षा चल रही थी. मामले में बीजेपी के नेता मनोज तिवारी ने इस दौरान एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया पर निशाना साधा. मनोज ने कहा कि ये कैसे क्लासरूम का निर्माण करवाया गया है जहां पर पंखे गिर रहे हैं.

अस्पताल में हुआ भर्ती
हादसे के बाद हर्ष के सिर में गंभीर चोट आ गई. जिसके बाद उसे जीटीबी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. पंखा गिरने के साथ ही कक्षा में मौजूद अन्य बच्चे भी सहम गए और मौजूद शिक्षक तुरंत उसे लेकर अस्पताल भागे. बाद में हर्ष के पिता को भी सूचित किया गया.

मनोज तिवारी ने साधा निशाना

मामले के जानकारी में आने के बाद मनोज तिवारी ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया पर वार किया. उन्होंने कहा कि जिस क्लास रूम को सिसोदिया वर्ल्ड क्लास बता रहे थे और जिसके निर्माण में 25 लाख का खर्च आया उसी का एक पंखा टूट कर छात्र के सिर पर गिरा और उसका सिर फट गया. सिसोदिया को उस बच्चे से मिलने जाना चाहिए. गौरतलब है कि इससे पहले मनोज ने सिसोदिया पर दो हजार करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप लगाया था. तिवारी ने कहा था कि एक आरटीआई के अनुसार स्कूलों में कमरों का निर्माण करवाने के लिए अतिरिक्त 2 हजार करोड़ रुपए दिए गए.

यह भी पढ़ें- दुकान से चोरी का लाइव VIDEO सीसीटीवी में कैद, देखिए तीन चोरों का कारनामा

टीचर दंपत्ति के घर दिनदहाड़े ताले तोड़ चोर ने उड़ाए गहने व नगदी, सीसीटीवी में कैद
First published: July 10, 2019, 2:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...