लाइव टीवी

जामिया हिंसा: दिल्ली पुलिस के खिलाफ FIR के लिए कोर्ट जाएगा यूनिवर्सिटी प्रशासन

News18Hindi
Updated: January 15, 2020, 8:29 PM IST
जामिया हिंसा: दिल्ली पुलिस के खिलाफ FIR के लिए कोर्ट जाएगा यूनिवर्सिटी प्रशासन
दिल्ली पुलिस के खिलाफ कोर्ट जाएगा जामिया प्रशासन

फिलहाल जामिया मिल्लिया इस्लामिया (jamia millia islamia) यूनिवर्सिटी प्रशासन गुरुवार को अदालत में सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत आवेदन दायर करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2020, 8:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जामिया मिल्लिया इस्लामिया (jamia millia islamia) यूनिवर्सिटी की कार्यकारी परिषद में दिल्ली पुलिस (Delhi police) के खिलाफ कोर्ट जाने का निर्णय लिया गया है. यह निर्णय 15 दिसंबर 2019 को विश्वविद्यालय कि लाइब्रेरी में कथित तौर पर पुलिस के द्वारा छात्रों पर हमले के मामले में लिया गया है. प्रशासन का मानना है कि कोर्ट के आदेश के बाद ही दिल्ली पुलिस केस दर्ज करेगी. फिलहाल यूनिवर्सिटी प्रशासन गुरुवार को अदालत में सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत आवेदन दायर करेगा.

छात्रों की मांग के आगे झुका प्रशासन
वहीं जामिया मिल्लिया के सैकड़ों छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर सोमवार को कुलपति नजमा अख्तर का दफ्तर घेर लिया था. छात्र सुबह से ही कैम्पस में प्रदर्शन कर रहे थे. उनकी मांग थी कि परीक्षाओं का टाइम टेबल फिर से बनाया जाए, सुरक्षा मजबूत की जाए और 15 दिसंबर को कैम्पस में पुलिस लाठीचार्ज के मामले में एफआईआर दर्ज करवाई जाए.

सरकार करा रही है जांच

बता दें, हिंसा मामले में मंगलवार को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (National Human Rights Commission) की चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल जामिया कैंपस पहुंचा. इसमें डीएसपी स्तर के अधिकारियों ने यहां के छात्रों से हिंसा को लेकर बातचीत की. यह सिलसिला शुक्रवार तक चलेगा.

CAA के खिलाफ छात्र कर रहे थे प्रदर्शन
दरअसल  नागरिकता संशोधन क़ानून पर जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पिछले साल 15 दिसंबर को विरोध प्रदर्शन हुआ. पिछले काफी दिनों से यहां जामिया के छात्र संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के ख़िलाफ़ लगातार प्रदर्शन कर रहे थे. रविवार को छात्रों के साथ कई अन्‍य लोग भी प्रदर्शन में शामिल हो गए. प्रदर्शनकारियों ने जामिया से संसद तक जाने की कोशिश में हैं लेकिन पुलिस ने उन्हें अब तक आगे नहीं बढ़ने दिया. 

छात्रों पर लगा हिंसा का आरोप
रविवार को प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए और सराय जुलैना में उन्‍होंने 3 बसों में आग लगा दी. आग बुझाने के लिए दमकल विभाग की 4 गाड़ियां मौके पर पहुंची लेकिन प्रदर्शनकारियों ने दमकल एक गाड़ी में भी तोड़फोड़ की जिसमें एक फायरमैन को चोट लगी. इस घटना के बाद दिल्ली पुलिस पर यूनिवर्सिटी के छात्रों पर लाठीचार्ज, यूनिवर्सिटी के अंदर घुसने और फायरिंग करने के आरोप लगे थे.

ये भी पढ़ें: 

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को तीस हजारी कोर्ट ने दी जमानत, लेकिन रखी ये शर्त

जामिया पहुंचीं आइशी घोष, कहा- इस लड़ाई में हम कश्मीर को पीछे नहीं छोड़ सकते

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 7:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर