लाइव टीवी

दिल्ली-झारखंड में भी जड़ें जमाने की कोशिश में JDU, BJP पर हमलावर

Anil Rai | News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 4:37 PM IST
दिल्ली-झारखंड में भी जड़ें जमाने की कोशिश में JDU, BJP पर हमलावर
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने साफ-साफ कहा कि बिहार में विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाएगा यानि साफ है बिहार में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन जारी रहेगा. लेकिन अब दिल्ली और झारखंड में होने वाले चुनाव में दोनों पार्टियां एक बार फिर आमने-सामने हैं. (फाइल फोटो)

करीब दो दशकों से दोनों दल साथ में लेकिन जेडयू (JDU) नेता बीजेपी (BJP) पर वार करने से नहीं चूक रहे हैं. झारखंड (Jharkhand) के लिए खुद को सबसे बड़ा विकल्प बता रही है पार्टी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 4:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (BJP) और जेडीयू (JDU) का रिश्ता आजकल अजीब दौर से गुजर रहा है. 2014 के लोकसभा और 2015 के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) को छोड़ दें तो ये दोनों दल करीब दो दशक से एक साथ हैं. इन दोनों चुनावों में भले ही दोनों पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ी थीं लेकिन कुछ समय बाद दोनों दल साथ आ गए थे. 2019 के लोकसभा चुनाव में तो बीजेपी-जेडीयू गठबंधन ने 40 में 39 सीटें जीत कर क्लिन स्वीप कर दिया लेकिन दोनों दलों के कुछ नेता एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी करने का कोई मौका नहीं छोड़ते. दशहरे के मौके पर तो बीजेपी कोटे के मंत्रियों तक ने एक कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) का बायकाट कर दिया हालांकि बाद में बाढ़ का बहाना बनाकर मामले को रफा दफा कर दिया गया.

बिहार में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन जारी रहेगा
न्यूज़ 18 नेटवर्क (News 18 Network) के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी (Rahul Joshi) को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू (Exclusive Interview) में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने साफ-साफ कहा कि बिहार में विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाएगा यानि साफ है बिहार में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन जारी रहेगा. लेकिन अब दिल्ली और झारखंड में होने वाले चुनाव में दोनों पार्टियां एक बार फिर आमने-सामने हैं.

दिल्ली-झारखंड में बीजेपी के खिलाफ घेराबंदी की तैयारी में जेडीयू

दिल्ली जेडीयू के प्रभारी तथा बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने बीजेपी पर पूर्वांचल और बिहार के लोगों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया. बीजेपी के दिल्ली अध्यक्ष मनोज तिवारी पर हमला बोलते हुए जेडीयू नेता ने कहा भले ही बीजेपी ने मनोज तिवार को पद दे दिया लेकिन उन्होंने पूर्वांचल के लोगों के लिए कुछ नहीं किया. जेडीयू सुत्रों की मानें तो पार्टी 25-30 सीटों पर खास नजर बनाए हुए है. जहां पूर्वांचल और बिहार के रहने वाले मतदातओं की संख्या अच्छी खासी हैं. कुछ यही हाल झारखंड का भी है. झारखंड विधानसभा चुनाव के ठीक पहले जेडीयू लगातार बीजेपी सरकार पर हमला बोल रही है, पार्टी अपनी बैठकों में कभी झारखंड में शराबबंदी को मुद्दा बनाती है तो कभी प्रदेश भर में फैले भ्रष्टाचार पर सीधे मुख्यमंत्री पर हमला बोल देते हैं.

हम विकल्प बन कर आएंगे
जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के सबसे करीबी समझे जाने वाले पार्टी महासचिव आरसीपी सिंह कहते हैं कि झारखंड में सबसे लंबे समय तक बीजेपी की सरकार रही है. झारखंड में बिजली, पानी, सड़क, रोजगार जैसी मूलभूत सुविधाएं चौपट हैं. यहां की जनता विकल्प की तलाश में है और हम उनके लिए विकल्प के रूप में यहां आए हैं.
Loading...

लगातार हमले के बाद भी क्यों चुप हैं बीजेपी नेता
दिल्ली और झारखंड दोनों राज्यों में बिहार में सहयोगी जेडीयू लगातार बीजेपी पर हमले कर रही है लेकिन बीजेपी नेता चुप्पी साधे हुए हैं. इसके पीछे के कारणों पर नजर डालें तो एक बात साफ समझ में आती है कि बीजेपी जेडीयू के बयानों पर प्रतिक्रिया देकर दोनों राज्यों में उसे महत्व नहीं देना चाहती. इसके पीछे बीजेपी नेता मानते हैं कि जेडीयू के दिल्ली और झारखंड में चुनाव लड़ने से बीजेपी पर कोई ख़ास असर पड़ने वाला नहीं है. हालांकि पार्टी के कुछ नेता जबाबी हमले के लिए सही समय और आलाकामना से हरी झंडी का इंतजार भी कर रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः तेजस्वी यादव ने CM नीतीश को कहा 'कथावाचक' और 'प्रवचनकर्ता', जानें पूरा मामला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 3:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...