लाइव टीवी

JNU हिंसा: MHRD ने VC जगदीश कुमार को फिर तलब किया, दिल्ली पुलिस ने दर्ज की 3 नई शिकायत

News18Hindi
Updated: January 10, 2020, 10:36 AM IST

वाइस चांसलर जगदीश कुमार (VC Jagadesh Kumar) के इस्तीफे की मांग पर अड़े जेएनयू के छात्रों को भी मानव संसाधन विभाग ने शुक्रवार को दोपहर बाद मिलने के लिए बुलाया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 10, 2020, 10:36 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जेएनयू हिंसा (JNU Violence) मामले और उसके बाद बने हालात पर बातचीत के लिए केंद्रीय मानव संसाधन विभाग (MHRD) ने विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर जगदीश कुमार (VC Jagadesh Kumar) को फिर तलब किया है. वहीं जगदीश कुमार के इस्तीफे की मांग पर अड़े छात्रों को भी मानव संसाधन विभाग की तरफ से शुक्रवार को दोपहर बाद मिलने के लिए बुलाया है. इस मुद्दे पर एक दिन पहले छात्रों और विभाग के अधिकारियों के बीच हुई बातचीत बेनतीजा साबित रही थी.

विभाग द्वारा दो दिन पहले भी वीसी जगदीश कुमार को तलब किया गया था. जिसके बाद उन्होंने केंद्रीय शिक्षा सचिव अमित खरे से मुलाकात कर उन्हें जेएनयू हिंसा और उसके बाद की स्थिति के बारे में जानकारी दी थी.



इस बीच दिल्ली पुलिस से जुड़े सूत्रों के अनुसार पांच जनवरी को हुई जेएनयू हिंसा मामले में पुलिस ने तीन शिकायतें और दर्ज की हैं. इन्हें मिलाकर अब तक कुल 14 शिकायतें दर्ज की जा चुकी हैं.


जोर पकड़ रही है VC जगदीश कुमार के इस्तीफे की मांग

वहीं अब बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने भी जगदीश कुमार पर मंत्रालय का आदेश नहीं मानने का आरोप लगाते हुए उन्हें जेएनयू के वीसी पद से हटाने की मांग की है. जेएनयू कैंपस में हुई हिंसा के बाद से वीसी जगदीश कुमार से इस्तीफे की लगातार मांग उठ रही है. जेएनयू छात्र संघ के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम सहित कई नेता भी उनके इस्तीफे की मांग कर चुके हैं.



बता दें कि रविवार शाम जेएनयू कैंपस में नकाबपोश हमलावरों ने घुसकर छात्रों और प्रोफेसर की लोहे की रॉड और लाठी-डंडे से पिटाई की थी. इस दौरान उन्होंने जमकर तोड़फोड़ भी की थी. मारपीट में 34 छात्रों और प्रोफेसर को चोट आई थी. इस हिंसा के लिए एबीवीपी और लेफ्ट के समर्थन वाली स्टूडेंट यूनियन ने एक-दूसरे पर कसूरवार ठहराया था.

ये भी पढ़ेंः  हिंदू सेना ने लगाए 200 से ज्यादा पोस्टर, मांगी JNU-DU में लेफ्ट से आजादी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 10, 2020, 10:09 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर