अराकू लोकसभा सीट: पिता और बेटी में है दिलचस्‍प मुकाबला

अराकू से जहां तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) ने 6 बार के विधायक विरीचेरला किशोर चंद्र सूर्यनारायण देव को अपना उम्‍मीदवार बनाया है वहीं उनकी बेटी वी. श्रुति देवी को कांग्रेस ने टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारा है.

News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 12:05 PM IST
अराकू लोकसभा सीट: पिता और बेटी में है दिलचस्‍प मुकाबला
अराकू लोकसभा सीट पर पहले चरण में चुनाव हो चुके हैं.
News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 12:05 PM IST
आंध्र प्रदेश की अराकू लोकसभा सीट इस बार खास चर्चा में है. इसकी वजह है यहां अलग-अलग पार्टियों से पिता और बेटी के दूसरे के खिलाफ चुनाव मैदान में खड़े हैं. अराकू से जहां तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) ने 6 बार के विधायक विरीचेरला किशोर चंद्र सूर्यनारायण देव को अपना उम्‍मीदवार बनाया है वहीं उनकी बेटी वी. श्रुति देवी को कांग्रेस ने टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारा है. दोनों एक दूसरे के खिलाफ चुनाव अभियान में उतरकर वोट मांग रहे हैं.

अराकू लोकसभा सीट का अस्तित्‍व 2008 में हुए परिसीमन के बाद सामने आया. इसके बाद से यहां सिर्फ दो बार 2009 और 2014 में लोकसभा चुनाव हुए हैं. सबसे पहले 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री वी किशोर चंद्र देव ने जीत हासिल की थी. जबकि 2014 में कांग्रेस से अलग होकर बने दल वाईएसआर कांग्रेस के उम्‍मीदवार कोथापल्ली गीता ने चुनाव जीता.



2019 लोकसभा चुनावों की बात करें तो अराकू सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है. इस बार पिता और बेटी के अलावा अन्‍य उम्‍मीदवार भी चुनावी मैदान में अपना दमखम दिखा रहे हैं. बीजेपी ने इस सीट से सत्यनारायण रेड्डी को मैदान में उतारा है. वहीं वाआईएसआर कांग्रेस ने माधवी को अपना उम्‍मीदवार घोषित किया है. पवन कल्याण की जनसेना पार्टी की ओर से गांगुलैया वमपुरु चुनाव लड़ेंगे.

कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस में मुकाबला होने के साथ ही यहां दोनों के उम्‍मीदवार पिता और बेटी में भी मुकाबला है.
कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस में मुकाबला होने के साथ ही यहां दोनों के उम्‍मीदवार पिता और बेटी में भी मुकाबला है.


इस सीट पर पहले चरण में चुनाव हाे चुका है. यहां 2019 में 73.62 फीसदी मतदान हुआ है. जो कि पिछले मतदान प्रतिशत से ज्‍यादा है. अब 23 मई को मतगणना के बाद नतीजे आएंगे.

2014 लोकसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस को मिली सीट
पिछले लोकसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस की प्रत्‍याशी कोथापल्ली गीता ने जीत हासिल की. गीता को इस दौरान 45 फीसदी वोट प्रतिशत के साथ 413,191 वोट मिले. जबकि इनके खिलाफ टीडीपी प्रत्‍याशी गुमिदि सांध्‍यरानी को 321,793 वोट ही मिल सके. इस दौरान तीसरे नंबर पर कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व सांसद किशोर चंद्र देव रहे.
टीडीपी ने यहां माधवी को अपना प्रत्याशी बनाया है.
टीडीपी ने यहां माधवी को अपना प्रत्याशी बनाया है.


सामाजिक समीकरण
इस संसदीय क्षेत्र में 7 विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें पालाकोंडा, कुरुपम, पार्वथीपुरम, सलूर, अराकू वैली, पदेरू, रामपचोडवरम शामिल हैं.

ये भी पढ़ें

मेघालय लोकसभा सीट: कांग्रेस-NPP के सामने विरासत बचाए रखने की चुनौती
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार