बर्धमान पूर्व लोकसभा सीट: यहां बीजेपी और टीएमसी के बीच है कड़ा मुकाबला

बर्धमान पूर्व लोकसभा सीट के इलाके बर्धमान पूर्व जिले के अंतर्गत आते हैं. यहां से टीएमसी के सुनील कुमार मंडल मौजूदा सांसद हैं.

News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 8:38 PM IST
बर्धमान पूर्व लोकसभा सीट: यहां बीजेपी और टीएमसी के बीच है कड़ा मुकाबला
file photo
News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 8:38 PM IST
बर्धमान पूर्व लोकसभा सीट 2008 के परिसीमन आयोग की रिपोर्ट के बाद अस्तित्व में आई. बर्धमान लोकसभा सीट, कटवा लोकसभा सीट और दुर्गापुर लोकसभा सीटों को खत्म करके दो नए संसदीय सीट बनी- बर्धमान पूर्व और बर्धमान-दुर्गापुर लोकसभा सीट. इन सीटों पर पहली बार 2009 में चुनाव हुए. बर्धमान पूर्व लोकसभा सीट के इलाके बर्धमान पूर्व जिले के अंतर्गत आते हैं. यहां से टीएमसी के सुनील कुमार मंडल मौजूदा सांसद हैं. 2014 के चुनाव में इन्होंने सीपीएम के ईश्वर चंद्र दास को शिकस्त दी थी. 2019 के चुनाव में दोनों उम्मीदवार एक बार फिर से मैदान में हैं. टीएमसी ने सुनील कुमार मंडल को दोबारा टिकट दिया है, वहीं सीपीएम की ओर से 2014 में दूसरे स्थान पर रहे ईश्वर चंद्र दास मुकाबले में हैं. बीजेपी ने अपना उम्मीदवार बदलते हुए यहां से परेश चंद्र दास को उतारा है. वहीं सिद्धार्थ मजूमदार कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

2014 के चुनाव का हाल



2014 में इस सीट से टीएमसी के सुनील मंडल ने जीत हासिल की थी. उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी को 1.14 लाख वोटों के अंतर से हराया था. सुनील मंडल को कुल 5 लाख 74 हजार 660 वोट हासिल हुए थे. जबकि सीपीएम के ईश्वर चंद्र दास को 4 लाख 60 हजार 181 वोट मिले थे. 12.93 फीसदी वोट लेकर बीजेपी के संतोष रॉय इस सीट पर तीसरे स्थान पर रहे थे. सुनील मंडल ने 43.50 फीसदी वोट और ईश्वर चंद्र दास ने 34.83 फीसदी वोट हासिल किए थे.

सुनील मंडल


2009 में यहां सीपीएम का कब्जा रहा था. 2009 के चुनाव में यहां से सीपीएम के डॉ अनूप कुमार साहा ने जीत हासिल की थी. उन्होंने टीएमसी के अशोक बिस्वास को शिकस्त दी थी. डॉ अनूप साहा ने कुल 5 लाख 31 हजार 987 वोट हासिल किए थे. वहीं टीएमसी उम्मीदवार अशोक बिस्वास को 4 लाख 72 हजार 568 वोट मिले थे.

बीजेपी उम्मीदवार परेश चंद्र दास


बर्धमान पूर्व सीट की खास बातेंबर्धमान पूर्व लोकसभा सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित सीट है. इस सीट के अंतर्गत 7 विधानसभा सीटें आती हैं- जिनमें रैना, जमालपुर, कलना, मेमरी, पुरबास्थली दक्षिण, पुरबास्थली उत्तर और कटवा शामिल हैं. रैना, जमालपुर और कलना सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. बर्धमान पूर्व सीट पर कुल 15 लाख 32 हजार 244 मतदाता हैं. इनमें पुरुष वोटर्स की संख्या 7 लाख 95 हजार 545 और महिला वोटर्स की संख्या 7 लाख 36 हजार 699 है. 2014 में इस सीट पर 86.21 फीसदी वोटिंग हुई थी.

ये भी पढ़ें:

बशीरहाट लोकसभा सीट: TMC बरकरार रख पाएगी मुस्लिम बहुल सीट पर कब्जा

जयनगर लोकसभा सीट: 2014 में बंगाल के इस पिछड़े इलाके से पहली बार जीती थी TMC

डायमंड हार्बर: जानिए CM ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी की सीट का समीकरण
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार