जम्मू लोकसभा सीट: 2014 के झटके से उबरकर ‘घर’ में वापसी कर पाएगी कांग्रेस?

कांग्रेस से यहां पर रमन भल्ला खड़े हैं, जबकि बीजेपी ने जुगल किशोर शर्मा को टिकट दिया है. सिख समुदाय द्वारा रमन भल्ला का समर्थन करने का फैसला बीजेपी को भारी पड़ सकता है. चुनाव से पहले कई गुरुद्वारों में यह घोषणा की गई कि सिख समुदाय ने रमन भल्ला को समर्थन देने का फैसला किया है.

News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 11:19 AM IST
जम्मू लोकसभा सीट: 2014 के झटके से उबरकर ‘घर’ में वापसी कर पाएगी कांग्रेस?
जम्‍मू लोकसभा सीट पर 11 अप्रैल को पहले चरण में मतदान हुआ है.
News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 11:19 AM IST
जम्मू-कश्मीर राज्य की शीतकालीन राजधानी है जम्मू. नगर के बीच से तवी नदी निकलती है. जम्मू नगर को ‘मंदिरों का शहर’ भी कहा जाता है, क्योंकि यहां ढेरों मंदिर एवं तीर्थ हैं. कई इतिहासकारों और स्थानीय लोगों के विश्वास के अनुसार जम्मू की स्थापना राजा जम्बुलोचन ने की थी. उनके नाम पर रखा गया शहर का नाम बाद में बदलते हुए जम्मू हो गया. जम्मू लोकसभा सीट पर पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान हो गया. यहां 72 फीसदी से भी ज्यादा वोटिंग हुई है.

कौन हैं प्रत्याशी?
कांग्रेस से यहां पर रमन भल्ला खड़े हैं, जबकि बीजेपी ने जुगल किशोर शर्मा को टिकट दिया है. सिख समुदाय द्वारा रमन भल्ला का समर्थन करने का फैसला बीजेपी को भारी पड़ सकता है. चुनाव से पहले कई गुरुद्वारों में यह घोषणा की गई कि सिख समुदाय ने रमन भल्ला को समर्थन देने का फैसला किया है.

कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन पर सहमति बनने के बाद नेशनल कॉन्फ्रेंस ने यहां अपने उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया. नेशनल कांफ्रेंस के कट्टर विरोधी पीडीपी ने भी दोनों सीटों से 'धर्मनिरपेक्ष मतों' को मजबूती देने के लिए अपने उम्मीदवार न उतारने का फैसला किया.

यह लोकसभा सीट कांग्रेस का गढ़ रही है लेकिन 2014 में कांग्रेस को यहां बीजेपी के हाथों हार मिली थी.
यह लोकसभा सीट कांग्रेस का गढ़ रही है लेकिन 2014 में कांग्रेस को यहां बीजेपी के हाथों हार मिली थी.


पिछले चुनाव का हाल
कांग्रेस के गढ़ वाली इस सीट पर बीजेपी ने 2014 में जीत दर्ज की थी. बीजेपी के जुगल किशोर शर्मा ने कांग्रेस के दो बार सांसद रहे मदन लाल शर्मा को करीब 2.57 लाख वोटों से करारी शिकस्त दी थी. जुगल किशोर को 6.19 लाख वोट मिले थे. तीसरे नंबर पर पीडीपी के यशपाल शर्मा थे.
Loading...

जम्मू लोकसभा सीट कांग्रेस का गढ़ रही है. 1957 से अस्तित्व में आई सीट पर अब तक कांग्रेस ने 15 चुनाव में से 9 चुनाव में जीत दर्ज की है. इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी तीन बार जीत दर्ज कर पाई है. सिर्फ दो बार ही (1957 और 2002 उपचुनाव) मुस्लिम प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है. 1980 से नजर डालें, तो पहले कांग्रेस गिरधारी लाल डोगरा जीते. उसके बाद अगले दो चुनाव कांग्रेस के ही जनक राय गुप्ता ने जीते.

इस लोकसभा क्षेत्र की विधानसभा सीटों पर पीडीपी और नेशनल कांफ्रेंस का भी जनाधार है.
इस लोकसभा क्षेत्र की विधानसभा सीटों पर पीडीपी और नेशनल कांफ्रेंस का भी जनाधार है.


1996 में भी कांग्रेस के मंगत राम शर्मा जीते. 1998 और 1999 का चुनाव बीजेपी के टिकट पर विष्णु दत्त शर्मा जीते. 2002 के उपचुनाव में इस सीट से नेशनल कॉन्फ्रेंस के चौधरी तालीब हुसैन जीते. इसके बाद फिर कांग्रेस ने वापसी की और दो बार लगातार  में मदन लाल शर्मा चुनाव जीते, लेकिन 2014 का चुनाव वह हार गए. उन्हें बीजेपी के जुगल किशोर शर्मा ने हराया.

सामाजिक समीकरण
जम्मू लोकसभा सीट के अन्तर्गत सूबे की 20 विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें से 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 13, नेशनल कॉन्फ्रेंस ने 3, पीडीपी ने 3 और कांग्रेस ने सिर्फ एक सीट पर जीत दर्ज की थी. भारत निर्वाचन आयोग की 2014 की रिपोर्ट के अनुसार, इस सीट पर वोटरों की संख्या 18.48 लाख है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार