लाइव टीवी

दक्षिण गोवा लोकसभा सीट: बीजेपी के लिए सीट बरकरार रखने की चुनौती

News18Hindi
Updated: May 14, 2019, 5:25 PM IST
दक्षिण गोवा लोकसभा सीट: बीजेपी के लिए सीट बरकरार रखने की चुनौती
दक्षिण गोवा के मौजूदा सांसद नरेंद्र केशव सवाईकर

भारत के पश्चिमी तट में स्थित गोवा राज्य की दक्षिण लोकसभा सीट से नरेंद्र केशव सवाईकार सांसद हैं. उन्होंने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के टिकट से पहली बार सांसद का चुनाव जीता है.

  • Share this:
भारत के कोंकण क्षेत्र में यह राज्य है. घूमने का विचार आते ही जिन जगहों का ध्यान सबसे पहले जेहन में आता है, उनमें गोवा सबसे आगे है. खासतौर पर उन लोगों के लिए, जिनको समुद्र पसंद हैं. यहां के लोगों की आजीविका भी पर्यटन पर निर्भर है यानी इस संसदीय क्षेत्र की जनता की आय का जरिया पर्यटन है.
भारत के पश्चिमी तट में स्थित गोवा राज्य की दक्षिण लोकसभा सीट से नरेंद्र केशव सवाईकार सांसद हैं. उन्होंने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के टिकट से पहली बार सांसद का चुनाव जीता है. दो लोकसभा सीटों वाला गोवा राज्य राजनीतिक रूप से बेहद अहम है. खासतौर पर मनोहर पर्रिकर के राष्ट्रीय पटल पर आने और यहां चुनावी उठापटक के बीच लगातार यह राज्य चर्चा में रहा है. अब पर्रिकर नहीं हैं. ऐसे में उनका निधन भी इस चुनाव में बीजेपी के लिए सहानुभूति दिलाने का काम कर सकता है.

कौन हैं प्रत्याशी

इस सीट पर कांग्रेस पार्टी ने कॉस्मे फ्रांसिस्को कैटानो सरदिन्हा, भारतीय जनता पार्टी ने नरेंद्र सवाईकर, आम आदमी पार्टी ने एल्विस गोम्स और शिवसेना ने राखी अमित नाइक को चुनाव मैदान में उतारा है. इसके अलावा डॉ. कालिदास प्रकाश वैनगंकर और मयूर खान कोनकर बतौर निर्दलीय चुनाव मैदान में हैं.

बीजेपी ने नरेंद्र सवाईकार को पिछली बार भी टिकट दिया था और उन्होंने जीत भी दर्ज की थी. उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में अपने सबसे करीबी प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के अलेक्सो रेनाल्डो लॉरेंको को 32 हजार 330 वोटों यानी 7.96 फीसदी वोटों के अंतर से हराया था.



इस चुनाव में सवाईकार को एक लाख 98 हजार 776 वोट मिले थे, जो कुल मतदान का 48 फीसदी है. वहीं, कांग्रेस पार्टी के लॉरेंको को एक लाख 66 हजार 446 वोट मिले थे. इस सीट पर साल 2014 के लोकसभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत 75.27 फीसदी था.
Loading...

पिछले चुनाव का हाल

दक्षिण गोवा संसदीय क्षेत्र में बीजेपी के अलावा कांग्रेस, एनसीपी, यूनाइटेड गोवा डेमोक्रेटिक पार्टी, यूनाइटेड गोवा पार्टी और गोवा फॉरवर्ड पार्टी और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी का प्रभाव है. इस सीट को कांग्रेस पार्टी का गढ़ माना जाता है. यहां पर अभी तक 13 बार लोकसभा चुनाव हुए हैं, जिनमें से 8 बार कांग्रेस पार्टी ने जीत दर्ज की है. इसके अलावा इस सीट पर बीजेपी को 2 बार, यूजीडीपी को एक बार और यूजीपी को 2 बार जीत मिली है. इस सीट पर 2007 में उपचुनाव भी हुए थे, जिसमें भी कांग्रेस पार्टी को ही जीत मिली थी.



भारतीय जनता पार्टी के एडवोकेट नरेंद्र केशव सवाईकार यहां से मौजूदा सांसद हैं. वो पहली बार सांसद चुने गए हैं. इससे पहले साल 2009 के लोकसभा चुनाव में सवाईकार को कांग्रेस पार्टी की फ्रांसिस्को सर्दिन्हा के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. साल 2004 में भी कांग्रेस ने इस सीट पर जीत दर्ज की थी. अगर अभी तक हुए लोकसभा चुनावों पर नजर डालें, तो एक बात साफ होती है कि यहां के वोटर पार्टी के नाम पर वोट देते हैं.

सामाजिक समीकरण

दक्षिण गोवा संसदीय क्षेत्र ईसाई और हिंदू बहुल सीट है. गोवा में 40 विधानसभा क्षेत्र हैं, जिनमें 20 सीटें दक्षिण गोवा संसदीय क्षेत्र में आती हैं. 2014 के मुताबिक कुल वोटरों की संख्या 5 लाख 45 हजार 336 थी. इस बार कहा जा रहा है कि बीजेपी के लिए सीट बचाना आसान नहीं है. हालांकि मोदी और पर्रिकर फैक्टर ने बीजेपी के पक्ष में कितना काम किया, इस पर भी नजर रहेगी.

ये भी पढ़ें:

सांगली लोकसभा सीट: 52 साल तक रहा कांग्रेस का कब्‍जा

माढा लोकसभा सीट: एनसीपी-बीजेपी के बागियों में होगी टक्‍कर

उत्तर गोवा लोकसभा सीट: श्रीपद नाइक के लिए जीत की हैट्रिक बनाने का मौका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 14, 2019, 5:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...