लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: मोदी के ये सात ब्रह्मास्त्र, जिनके आगे ढ़ेर हुआ पूरा विपक्ष

लोक सभा इलेक्शन रिजल्ट २०१९ (Lok Sabha Election Result 2019) में आपको बता रहे हैं कि उन कारकों के बारे में जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत में बड़ी भूमिका निभाई.

News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 11:28 PM IST
लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: मोदी के ये सात ब्रह्मास्त्र, जिनके आगे ढ़ेर हुआ पूरा विपक्ष
पीएम नरेंद्र मोदी
News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 11:28 PM IST
लोकसभा चुनाव परिणाम २०१९ (इलेक्शन रिजल्ट): लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha Election 2019) के नतीजों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में बीजेपी ने बड़ी जीत हासिल की है. इन नतीजों में एनडीए ने 2014 का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया है और 350 के करीब सीटों के साथ नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस (एनडीए) एक बाद फिर से सरकार बना रहा है. कांग्रेस को एक बार फिर से करारी हार का सामना करना पड़ा है. ऐसे में आपको बता रहे हैं कि आखिर ऐसे क्या कारण थे जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत में बड़ी भूमिका निभाई.

मजबूत नेतृत्व: 2014 के लोकसभा चुनाव को जीतकर सत्ता में आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कभी आराम नहीं किया. जिसके चलते उनकी पूरी टीम पूरे कार्यकाल एक्टिव बनी रही. मोदी ने ‘नया भारत’ बनाने का जो संकल्प लिया उसपर लोगों ने भरोसा जताया है.



कड़े फैसले लेने का दम दिखाना: 2014 में पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कड़े फैसले लेने से कभी पीछे नहीं हटे, फिर फैसला चाहे अचानक की गई नोटबंदी हो या फिर जीएसटी.

भ्रष्टाचार के खिलाफ काम करना: 2014 में सत्ता में आने से पहले पीएम मोदी ने कहा था ‘न खाऊंगा और न खाने दूंगा.’ मोदी की पूरी सरकार इसी फॉर्मूले पर पूरे पांच साल काम किया. जिसके चलते भ्रष्टाचार का कोई मामला सामने नहीं आया.

तंत्र (शासन) में चौहुमुखी सुधार करना: मोदी ने सत्ता में आते ही वो फैसले लेने शुरू किए जिनसे शासन में सुधार हो. मोदी ने कई पुराने कानून खत्म किए जिनके कोई उपयोग नहीं था.

प्रखर राष्ट्रवाद: पीएम मोदी लोकसभा चुनाव से पहले भी राष्ट्र सुरक्षा का मुद्दा उठाते रहे थे. पुलवामा और उरी में हुए आतंकी हमले के बाद मोदी सरकार के नेतृत्व में सेना ने एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक की, इससे लोगों में यह संदेश गया कि अगर कोई दुश्मन को घर में घुस कर मारने का दम रखता है तो वो मोदी ही हैं.

योजनाओं की होम डिलीवरी: डिजिटल इंडिया पर जोर देकर मोदी सरकार ने उन योजनाओं की सीधे होम डिलीवरी कर दी, जिनमें बिचौलिए बीच में आकर लाभार्थी के हक पर ‘डांका’ डाल देते हैं. योजनाओं का भेद भाव रहित क्रियान्यवन हुआ. जिससे चुनाव में मोदी को सभी जातियों से समर्थन मिला. लोगों ने मोदी के नाम पर जाति से ऊपर उठकर वोट बीजेपी को वोट दिया.
Loading...

महिलाओं का समर्थन: सरकार में आते ही पीएम मोदी ने महिलाओं की सुविधाओं के लिए काम करना शुरू किया. फिर चाहे वो गैस कनेक्सन हो, शौचालय हो, घर बिजली जैसी योजनाएं हो. जिनके चलते महिला वोटर्स ने मोदी को चुनाव में समर्थन किया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...