मुफ्ती मुकर्रम ने मंदिर के नुकसान पर जताया दुख, 'हिंदू- मुस्लिम मिलकर कराएंगे मरम्मत'

मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने कहा कि उन्होंने सीसीटीवी फुटेज देखे हैं, जिसमें कुछ लोग पथराव करते नजर आ रहे हैं.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 9:35 PM IST
मुफ्ती मुकर्रम ने मंदिर के नुकसान पर जताया दुख, 'हिंदू- मुस्लिम मिलकर कराएंगे मरम्मत'
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 9:35 PM IST
राजधानी नई दिल्ली के हौज काजी इलाके में मंदिर को नुकसान पहुंचाए जाने के मामले में फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने अफसोस जताते हुए कहा है कि इस मामले में पुलिस अच्छा काम कर रही है. उन्होंने कहा कि मंदिर की जो क्षति हुई है, उसको इलाके के आरडब्ल्यूए के लोग (हिंदू- मुसलमान) मिलकर मरम्मत कराएंगे.

मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने न्यूज18 से बात करते हुए कहा कि सबसे अच्छी बात यह है कि क्षेत्र के जो जिम्मेदार लोग हैं वे लोग इस मामले को ज्यादा तूल देना नहीं चाहते हैं. वे लोगों से बराबर भाइचारे और अमन की अपील कर रहे हैं. लेकिन बाहर के लोग आकर ड्रामा कर रहे हैं. साथ ही सोशल मीडिया पर वीडियो बनाकर अपलोड कर रहे हैं. जबकि पुरानी दिल्ली क्षेत्र के लोग बाहर के लोगों का हस्तक्षेप नहीं चाहते हैं.

मुफ्ती मुकर्रम अहमद मीडिया को जानकारी देते हुए


मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने कहा कि उन्होंने सीसीटीवी फुटेज देखे हैं, जिसमें कुछ लोग पथराव करते नजर आ रहे हैं. लेकिन किस तरह का नुकसान मंदिर को हुआ यह दिखाई नहीं दे रहा है. यह काम पुलिस का है. पुलिस अपना काम कर भी रही है. उन्होंने कहा उन्हें इस मामले में नहीं पता कि कोई साजिश है या फिर अचानक यह विवाद सामने आ गया. उल्लेखनीय है कि रविवार की रात पुरानी दिल्ली के हौज काजी इलाके में पार्किंग को लेकर हुए मामूली झगड़े के बाद दो समुदायों में तनाव उत्पन्न हो गया था. कुछ शरारती लोगों ने इलाके के मंदिर को नुकसान पहुंचा दिया था. इसके बाद इस मामले में हिंदू- मुस्लिम आमने-सामने आ गए थे.

ये भी पढ़ें- 

छपरा गैंगरेप: वारदात के 72 घंटे बाद पकड़ा गया मुख्य आरोपी

सुर्खियां: सरकारी योजनाओं का लाभ हर गरीब को मिलेगा-नीतीश 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 8:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...