लाइव टीवी

निर्भया मामले के दोषियों ने तिहाड़ जेल प्रशासन से अधिसूचना वापस लेने की मांग की

भाषा
Updated: November 4, 2019, 10:51 PM IST
निर्भया मामले के दोषियों ने तिहाड़ जेल प्रशासन से अधिसूचना वापस लेने की मांग की
दोषियों के वकील ने सोमवार को यह जानकारी दी.

निर्भया सामूहिक दुष्कर्म मामले (Nirbhaya Gang Rape Case) में मौत की सजा का सामना कर रहे तीन दोषियों ने जेल अधिकारियों को पत्र लिखकर 29 अक्टूबर की उस अधिसूचना को वापस लेने का अनुरोध किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. निर्भया सामूहिक दुष्कर्म मामले (Nirbhaya Gang Rape Case) में मौत की सजा का सामना कर रहे तीन दोषियों ने जेल अधिकारियों को पत्र लिखकर 29 अक्टूबर की उस अधिसूचना को वापस लेने का अनुरोध किया है. अधिसूचना में उन्हें अपनी सजा के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर करने के लिए सात दिन का समय दिया गया है. उनके वकील ने सोमवार को यह जानकारी दी.

अदालत में विनय शर्मा, अक्षय कुमार सिंह और पवन कुमार गुप्ता की पैरवी कर रहे वकील ए पी सिंह ने कहा कि तीनों दोषियों ने जेल अधिकारियों को पत्र लिखकर कई आधार पर अधिसूचना वापस लेने की मांग की है.

कोर्ट प्रशासन ने किया था आगाह
जेल अधिकारियों ने 2012 के सामूहिक दुष्कर्म मामले के दोषियों को सूचित किया था कि उन्होंने सभी कानूनी विकल्पों का इस्तेमाल कर लिया है और उनके पास मौत की सजा के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर करने का प्रावधान ही बचा है. शीर्ष अदालत ने नौ जुलाई 2018 को चार दोषियों में से तीन की याचिकाओं को खारिज कर दिया जिसमें उन्हें सुनाई गई मौत की सजा के उसके आदेश पर पुनर्विचार करने की मांग की गई थी.

2012 में हुआ था मामला
न्यायालय ने मुकेश (30), गुप्ता और शर्मा (23) की पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया था. चौथे दोषी अक्षय कुमार सिंह (32) ने पुनर्विचार याचिका दायर नहीं की थी. गौरतलब है कि 2012 में 16 दिसंबर की रात को 23 वर्षीय पैरा मेडिकल की छात्रा से दक्षिण दिल्ली में चलती बस में छह लोगों ने क्रूरता से बलात्कार किया और फिर उसे सड़क पर फेंक दिया. उसकी 29 दिसंबर 2012 को सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में मौत हो गई थी.
ये भी पढ़ें:
Loading...

दिल्‍ली सरकार पर सुप्रीम कोर्ट सख्‍त, पूछा- Odd-Even से क्‍या मिलेगा, 3000 बसों का क्‍या हुआ?

चिदंबरम ने कहा- अपने फायदे के लिए नहीं किया वित्त मंत्री के पद का इस्तेमाल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 10:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...