PM मोदी का शपथ ग्रहण: हाई अलर्ट पर दिल्ली, विदेशी मेहमानों और विशिष्ट अतिथियों की सुरक्षा पर खास नजर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह को लेकर आज दिल्ली हाई अलर्ट पर है. खासतौर पर नई दिल्ली, सेंट्रल दिल्ली और साउथ दिल्ली को दिल्ली पुलिस ने अपने कब्जे में ले रखा है.

News18Hindi
Updated: May 30, 2019, 4:10 PM IST
PM मोदी का शपथ ग्रहण: हाई अलर्ट पर दिल्ली, विदेशी मेहमानों और विशिष्ट अतिथियों की सुरक्षा पर खास नजर
राष्ट्रपति भवन (File Photo)
News18Hindi
Updated: May 30, 2019, 4:10 PM IST
आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह को लेकर दिल्ली हाई अलर्ट पर है. खासतौर पर नई दिल्ली, सेंट्रल दिल्ली और साउथ दिल्ली को दिल्ली पुलिस ने अपने कब्जे में ले रखा है. इन तीन जिलों में ट्रैफिक के साथ लॉ एंड आर्डर की स्थिति पर भी विशेष सतर्कता बरती जा रही है. इन तीनों एरिया में दिल्ली पुलिस के साथ-साथ पैरामिलिट्री फोर्स की भी कई टुकड़ियां तैनात की गई हैं. दिल्ली पुलिस के कई बड़े आलाधिकारी इलाके में गस्त लगा रहे हैं. ज्वाइंट सीपी से लेकर स्पेशल सीपी लेवल तक के अधिकारियों की विशेष नजर है. दिल्ली के पुलिस कमिश्नर खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

विदेशी मेहमानों और विशिष्ट अतिथियों की सुरक्षा पर खास नजर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह में आज विदेशी मेहमानों के साथ कई राज्यों के सीएम और गवर्नर्स और विशिष्ट अतिथियों के आगमन को देखते हुए दिल्ली पुलिस सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं. दिल्ली पुलिस और सुरक्षा बलों के दस हजार से भी अधिक जवानों की तैनाती की गई है. कई जगहों पर रैपिड ऐक्शन फोर्स की टीमों की भा तैनाती की गई है. लुटियंस के महत्वपूर्ण भवनों पर शार्पशूटर्स की भी तैनाती कर दी गई है, जो पूरे इलाके में हर आने-जाने वालों पर पैनी नजर रख रहे हैं.

फाइल फोटो-इंडिया गेट पर सुरक्षा में तैनात दिल्ली पुलिस का एक सिपाही


नई दिल्ली के डीसीपी मधुर वर्मा न्यूज 18 हिंदी से बातचीत में कहते हैं, ‘शपथ समारोह के लिए दिल्ली पुलिस ने पूरी तैयारी कर रखी है. सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त के साथ लोगों की सुविधा का भी विशेष ख्याल रखा गया है. क्योंकि 8 हजार से ज्यादा लोग इस शपथ समारोह में शामिल होंगे इसलिए सभी सरकारी दफ्तर को 2 बजे के बाद से बंद कर दिया जाएगा. साथ ही दिल्ली में आने वाले मेहमानों को कोई परेशानी न हो इसके लिए भी पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं. पूरे इलाके को एनएसजी कमांडो से कवर किया गया है. ड्रोन भी नजर रख रहे हैं. कुछ सड़को का डायवर्जन किया गया है. खासकर राष्ट्रपति भवन के आसपास विशेष सुरक्षा के बंदोबस्त किए गए हैं. उन लोगों को राष्ट्रपति भवन के आस-पास नहीं जाना है, जिनके पास वहां जाने का पास नहीं है.’

शाम 4 बजे से रात के 9 बजे तक कई ट्रैफिक रूट्स बंद रहेंगे. 

आज 2 बजे के बाद से ही दिल्‍ली के कई रास्‍तों को आम जनता के लए बंद कर दिया गया है. राष्‍ट्रपति भवन में हो रहे समारोह में वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए शाम 4 बजे से रात के 9 बजे तक कई ट्रैफिक रूट पूरी तरह से बंद रहेंगे. इनमें राजपथ (विजय चौक से राष्ट्रपति भवन तक), उत्तर और दक्षिण फव्वारा सहित विजय चौक और आसपास के क्षेत्र, साउथ एवेन्यू, नॉर्थ एवेन्यू, दारा-शिकोह रोड और चर्च रोड शामिल हैं.
Loading...

delhi police
सुरक्षा का जायजा लेते पुलिस अधिकारी


इस समारोह को देखते हुए दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के तकरीबन 10 हजार जवान अलग- अलग जगहों पर तैनात रहेंगे. यहां मल्टीलेयर सुरक्षा रखी गई है. क्विक रिस्पांस टीम और स्नाइपर्स भी तैनात रहेंगे.

इन रूटों पर जाने से बचें

इसके अलावा दोपहर 2 बजे के बाद से ट्रैफिक पुलिस एडवाइजरी में इन रूटों पर ट्रैफिक बढ़ सकता है. दिल्ली पुलिस ने अकबर रोड, राजपथ, तीन मूर्ति मार्ग, कृष्णा मेनन मार्ग, पंडित पंत मार्ग, तालकटोरा रोड, गुरुद्वारा रकाब गंज रोड, त्यागराज मार्ग, एस पी मार्ग, खुशक रोड, के कामराज मार्ग, राजाजी मार्ग, शांति पथ, रायसीना रोड पर जाने से बचें.

ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक सिर्फ ट्रैफिक पुलिस के ही करीब दो हजार जवानों को मोदी और विदेशी मेहमानों के आवागमन के मार्ग पर तैनात किया गया है. शाम 4 बजे से रात 9 बजे तक लुटियंस के कई सड़कों को बंद रखा जाएगा.  ट्रैफिक पुलिस ने अपनी अडवाइजरी में यह भी कहा है कि सभी मोटर वाहन चालकों को ड्यूटी पर तैनात यातायात पुलिस के निर्देशों का पालन करने की सलाह दी जाती है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 30, 2019, 3:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...