पहले बच्चे को किया किडनेप फिर इस मोबाइल एप से मांगी फिरौती

जल्द ही बहन की शादी होनी थी. बहुत सारे रुपयों की भी जरुरत थी. तभी उसके दिमाग में एक-एक कर क्राइम के सीरियल घूमने लगे. इसी उधेड़बुन में उसने एक झटके में लाखों रुपये कमाने का प्लान भी बना लिया.

News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 10:12 AM IST
पहले बच्चे को किया किडनेप फिर इस मोबाइल एप से मांगी फिरौती
पतीकात्मक फोटो- आरोपी ध्रुव ने बच्चे की फिरौती मांगने के लिए मोबाइल में दो एप डाउनलोड की थी.
News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 10:12 AM IST
वो पेशे से लोडिंग टैम्पू ड्राइवर है. लेकिन अपराध की दुनिया पर बने सनसनीखेज सीरियल देखने का बेहद शौकीन है. घर में मां और छोटी बहन है. जल्द ही बहन की शादी होनी थी. बहुत सारे रुपयों की भी जरुरत थी. तभी उसके दिमाग में एक-एक कर क्राइम के सीरियल घूमने लगे. इसी उधेड़बुन में उसने एक झटके में लाखों रुपये कमाने का प्लान भी बना लिया. और उसके बाद जो कुछ भी हुआ उससे दिल्ली पुलिस भी हैरान रह गई.

बच्चे के पिता के पास कितने रुपये हैं ऐसे लगाया इसका पता

आरोपी ध्रुव ने जिस बच्चे को किडनेप किया वह उस मोहल्ले में किराए पर पहले रह चुका है. बहन की शादी में पैसा खर्च करने के लिए उसने बच्चे को किडनेप करने की योजना बनाई थी. बच्चे के व्यापारी पिता के पास नकद कितना रुपया है जो वो कुछ ही घंटों के अंदर दे सके, इसका पता लगाने के लिए ध्रुव ने एक चाल चली.

ध्रुव ने बच्चे के पिता को एक मैसेज भेजा. उसे एक कुछ महीने पुरानी होंडा सिविक कार बिकने का मैसेज भेजा. जिस पर बच्चे के पिता तैयार हो गए. इससे ध्रुव ने रुपयों का अंदाजा लगा लिया.

प्रतीकात्मक फोटो- दिल्ली पुलिस ने चालक बन रहे अपहरणकर्ता ध्रुव को सीसीटीवी की मदद से पकड़ा था.


घर से ऐसे किडनेप किया बच्चे को

बच्चे और ध्रुव में पहले की थोड़ी सी जान-पहचान थी. घटना वाले दिन सोमवार की सुबह ध्रुव बच्चे के घर के पास पहुंचा. उसे फ्रूटी पिलाने की बात कही. उसके थोड़ी देर बाद ध्रुव अपना लोडिंग टैम्पू लेकर बच्चे के घर के बाहर पहुंच गया. बच्चे को बहाने से बिठा लिया. उसे लोकर अपने घर पर मां और बहन के पास छोड़ दिया और थोड़ी देर में ले जाने की बात कही. वो लोग भी बच्चे को पहचानते थे इसलिए ज्यादा कोई शक नहीं हुआ.
Loading...

मोबाइल एप से इस तरह मांगी फिरौती की रकम

ध्रुव अच्छी तरह से जानता था कि अगर उसने मोबाइल से सीधे फिरौती मांगी तो वो पकड़ा जा सकता है. अपनी आवाज़ बदलने के लिए ध्रुव ने वॉइस चेंजर एप डाउनलोड की. फिर उसने फ्री कॉल वाला एप डाउनलोड किया. जिससे उसका नम्बर जाहिर न हो जाए. इसके बाद ध्रुव ने फिरौती मांगने वाला वॉइस मैसेज रिकॉर्ड किया और बच्चे के पिता को भेज दिया.

प्रतीकात्मक फोटो- फिरौती का मैसेज भेजने के लिए आरोपी ध्रुव इस एप का ले रहा था सहारा.


ऐसे पकड़ा गया 75 लाख की फिरौती मांगने वाला ध्रुव

फूंक-फूंककर कदम रखने वाला ध्रुव एक बात भूल गया कि जहां से उसने बच्चे को उठाया है वहां सीसीटीवी भी लगा हुआ था. उस सीसीटीवी की फुटेज से उसका भेद भी खुल सकता है. और हुआ भी ऐसा ही. जैसे ही मामला पुलिस के पास पहुंचा पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी खंगालने शुरु कर दिए.

फुटेज में बच्चे के घर के पास लोडिंग टैम्पू दिखा तो पुलिस ने पूछताछ शुरु कर दी. किसी ने बता दिया कि यह टैम्पू तो ध्रुव चलाता है. फिर क्या था, पुलिस ने ध्रुव को उठाकर पूछताछ शुरु कर दी. जल्द ही ध्रुव ने सब कुछ सच-सच उगल दिया. बच्चा भी ध्रुव के घर से बरामद हो गया और उसकी मां-बहन को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

ये भी पढ़ें- देशभर में अपराधों की बाल की खाल निकालेंगे ये 3221 अफसर, दी गई खास ट्रेनिंग

फ्रांसिसी नागरिक सैटेलाइट फोन लेकर क्यों जा रहे हैं लेह, 2 महीने में दूसरा पकड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 6, 2019, 10:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...