दिल्ली-NCR में टूटी जुर्माने की सभी सीमाएं, लाखों के चालान पर उठने लगे सवाल!

ओवरलोड था ट्रक, ड्राइवर के पास न लाइसेंस, न आरसी (RC), न फिटनेस न परमिट और न बीमा (Insurance), ट्रक मालिक ने दिल्ली (Delhi) की रोहिणी कोर्ट (Rohini Court) में 2 लाख 500 रुपए का चालान (Challan) जमा किया

News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 12:11 PM IST
दिल्ली-NCR में टूटी जुर्माने की सभी सीमाएं, लाखों के चालान पर उठने लगे सवाल!
ट्रक मालिक ने चालान की रकम कोर्ट में जमा कर दी है (File Photo)
News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 12:11 PM IST
नई दिल्ली. नया मोटर व्हीकल एक्ट (New Motor Vehicle Act) लागू होने के बाद दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में चालान के सारे रिकॉर्ड टूट रहे हैं. हरियाणा (Haryana) के गुरुग्राम (Gurugram) में स्कूटर का 23 हजार रुपये से शुरू हुआ चालान 1 लाख 16 हजार रुपए तक जा पहुंचा. चालान को लेकर जनता में इतनी दहशत हो गई कि प्रदेश सरकार ने चुनावी चक्कर में इस प्रक्रिया को अघोषित रूप से बंद कर दिया. लेकिन दिल्ली पुलिस (Delhi Police) चालान काटने में कोई रहम नहीं बरत रही. एक तरफ दिल्ली सरकार जुर्माना कम करने पर विचार कर रही है तो दूसरी ओर ट्रैफिक पुलिस ने एक ओवरलोड ट्रक (Overload Truck) का 2 लाख 500 रुपये का चालान (Traffic challan) काट दिया. ट्रक मालिक ने जुर्माना भर दिया लेकिन इसे लेकर अब वो सवाल उठा रहे हैं. उनका कहना है कि उन्हें खुद नहीं पता कि इतना चालान कैसे हुआ. ये हमारे साथ ज्यादती है.

उधर, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि नए मोटर वाहन कानून में जिस प्रकार से चालान किए जा रहे हैं उससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है.

(2 लाख 500 रुपये चालान की रसीद)


Loading...

हरियाणा में अपनी खोई जमीन तलाश रहे हुड्डा का कहना है, 'मैं राज्य सरकार से कहता हूं कि तुरंत इसको (चालान) वापस ले या जुर्माना कम से कम करे.'

 traffic challan, ट्रैफिक चालान, indias biggest amount of traffic challan, भारत में सबसे ज्यादा पैसे का ट्रैफि चालान, आरसी, RC, बीमा, Insurance, Delhi news, दिल्ली समाचार, new motor vehicle act, नया मोटर व्हीकल एक्ट, दिल्ली पुलिस, delhi police, overloaded truck challan, ओवरलोड ट्रक का चालान
दिल्ली पुलिस चालान काटने में रिकॉर्ड बना रही है (File Photo)


दिल्ली-एनसीआर का ट्रैफिक मीटर

इससे पहले हरियाणा के रेवाड़ी में एक ट्रक का 1.16 लाख रुपये का चालान किया गया था. गुरुग्राम में एक ट्रैक्टर चालक का 59 हजार रुपये का चालान कटा. फरीदाबाद में एक बुलेट चालक का 41000 रुपये का चालान हुआ. फरीदाबाद में ही एक बुलेट चालक का 35 हजार रुपये का चालान हो चुका है. गुरुग्राम में एक ऑटो चालक का 32500 रुपये का चालान कट चुका है. इतने मोटे चालान को लेकर राज्यों में बेचैनी है. इसलिए गुजरात ने जुर्माने की रकम को कम कर दिया है. दिल्ली में भी इसकी तैयारी है.

ट्रक मालिक ने कहा-ये तो हमारे साथ ज्यादती है

जिस ट्रक का इतना भारी भरकम जुर्माना हुआ है उस पर 18 टन ओवरलोड का आरोप है. ड्राइवर के पास कोई कागज भी नहीं था. यह चालान रोहिणी में जीटी करनाल रोड के मुकरबा चौक पर किया गया. चौक से भलस्वा की तरफ जाते समय इस हरियाणा नंबर की गाड़ी का चालान कटा था. बृहस्पतिवार को रोहिणी कोर्ट में चालान की रकम जमा भी करवा दी गई है. पुलिस के मुताबिक ट्रक का नंबर HR 69C7473 है. मालिक का कहना था कि उनकी गाड़ी की लोडिंग 25 टन पर पास है. लेकिन उनकी गाड़ी में 18 टन ज्यादा बताकर चालान किया गया. उन्हें खुद नहीं पता कि इतना चालान कैसे हुआ. ये तो हमारे साथ ज्यादती है.

traffic challan, ट्रैफिक चालान, indias biggest amount of traffic challan, भारत में सबसे ज्यादा पैसे का ट्रैफि चालान, आरसी, RC, बीमा, Insurance, Delhi news, दिल्ली समाचार, new motor vehicle act, नया मोटर व्हीकल एक्ट, दिल्ली पुलिस, delhi police, overloaded truck challan, ओवरलोड ट्रक का चालान
हरियाणा के रेवाड़ी में 1.16 लाख रुपये का कट चुका है चालान (File Photo)


किस मद में कितना हुआ जुर्माना

ओवरलोड का 20 हजार, ड्राइविंग लाइसेंस न होने पर 5 हजार, आरसी, फिटनेट और पीयूसी (प्रदूषण सर्टिफिकेट) न होने पर 10-10 हजार, बीमा न होने पर 4 हजार, सीट बेल्ट न होने पर 1 हजार रुपये का जुर्माना हुआ है. इसके मालिक पर 74.5 हजार रुपये जुर्माना लगा है. 18 टन एक्स्ट्रा लोड (अतिरिक्त भार) पर 36 हजार रुपये जुर्माना किया गया है.

ये भी पढ़ें:

चेकिंग का वीडियो बनाते वक्त आपके मोबाइल को हाथ भी नहीं लगा सकती ट्रैफिक पुलिस!

नई गाड़ी में साल भर तक जरूरी नहीं है PUC

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 11:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...