...जब संदीप दीक्षित ने राहुल गांधी को कुर्सी दिखाकर कहा- यहीं बैठती थीं शीला दीक्षित

राहुल गांधी विदेश से लौटने के बाद शुक्रवार को दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देने उनके घर पहुंचे.

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:39 PM IST
...जब संदीप दीक्षित ने राहुल गांधी को कुर्सी दिखाकर कहा- यहीं बैठती थीं शीला दीक्षित
राहुल गांधी ने संदीप दीक्षित के साथ तीन घंटे बिताए और ये संदेश भी दिया कि गांधी परिवार के लिए दीक्षित परिवार की क्या अहमियत है.
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:39 PM IST
राहुल गांधी विदेश से लौटने के बाद शुक्रवार को दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देने उनके घर पहुंचे. लगभग सुबह 11 बजे राहुल ने शीला दीक्षित की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किए और फिर उसकी कमरे मे बैठ गए. सबको लगा कि राहुल गांधी कुछ देर परिवार से बात कर चले जाएंगे लेकिन राहुल गांधी 3 घंटे से भी ज्यादा समय तक उसी कमरे में शीला दीक्षित के परिवार के साथ बैठे रहे.

20 मिनट की चुप्पी
वहां मौजूद शख्स के मुताबिक पहले 20 मिनट तक राहुल गांधी और संदीप दीक्षित एक दूसरे की तरफ देखते रहे लेकिन दोनों की जुबान से एक शब्द भी नही निकला. और 20 मिनट बाद जब संदीप दीक्षित की चुप्पी तोड़ी तो राहुल गांधी को वहां रखी कुर्सी दिखाते हुए कहा कि जिस कुर्सी पर अम्मा ( शीला दीक्षित) की तस्वीर रखी हुई है इसी कुर्सी पर वो हमेशा बैठती थीं. ये कहते हुए संदीप की आंखें नम हो गईं.

सोनिया ने बताई अहमियत

राहुल गांधी ने संदीप दीक्षित के साथ तीन घंटे बिताए और ये संदेश भी दिया कि गांधी परिवार के लिए दीक्षित परिवार की क्या अहमियत है. शीला दीक्षित के देहांत के बाद सोनिया गांधी उसी वक्त उनके निज़ामुद्दीन निवास पर पहुंची थीं फिर उसके एक दिन बाद जब शीला दीक्षित का पार्थिव शरीर कांग्रेस मुख्यालय में रखा गया तो वहां भी सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी ने उन्हें अंतिम विदाई दी थी.

गांधी परिवार का संदेश
उसके बाद निगम बोध घाट मे शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार हुआ तो वहां सोनिया गांधी, प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा ने पहुंच कर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी और अब जब राहुल गांधी विदेश से लौटे तो राहुल गांधी ने संदीप दीक्षित, लतिका (बहन) और मोना ( संदीप की पत्नी ) के साथ तीन घंटे बिताए. कई जानकार इस मुलाकात के राजनीतिक मायने भी निकाल रहे हैं. आखिरी दिनों मे कुछ नेताओं ने जिस तरीके का व्यवहार शीला दीक्षित के साथ किया. इस मुलाकात को उन नेताओं के लिए एक सदेश भी कहा जा सकता है.
Loading...

अनुराग ढांडा, न्यूज18 इंडिया


ये भी पढ़ें:

सदस्यता पर्व में दोगुनी हो सकती है बीजेपी की सदस्य संख्या

शीला दीक्षित के निधन के 6 दिन बाद परिवार से मिले राहुल
First published: July 26, 2019, 6:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...