नये सांसदों को 'गुरु मंत्र' देंगे वरिष्ठ सांसद, ये है वजह

लोकसभा सचिवालय द्वारा 17वीं लोकसभा के लिए चुने गए नये सांसदों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है.

vineet kumar | News18Hindi
Updated: July 3, 2019, 11:47 AM IST
नये सांसदों को 'गुरु मंत्र' देंगे वरिष्ठ सांसद, ये है वजह
नये सांसदों के लिए कार्यशाला का आयोजन होगा. (फाइल फोटो)
vineet kumar | News18Hindi
Updated: July 3, 2019, 11:47 AM IST
संसदीय प्रक्रियाओं को समझने और इसमें नए सांसदों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए लोकसभा सचिवालय अपने नए चुने सांसदों के लिए कार्यशाला का आयोजन करता है. इस कार्यशाला में वरिष्ठ और अनुभवी सांसद अपने अनुभव नए चुने सांसदों के साथ बांटते हैं. आपको बता दें कि इस तरह की कार्यशाला में वरिष्ठ सांसदों के स्पीच का सेशन होता है, जिसमें वे विभिन्न प्रक्रियाओं के बारे में नए सांसदों को बताते हैं. वह यह भी साझा करते हैं कि किस सांसद को किस तरह से अपने सवाल संसद में पूछना चाहिए और संसद की समितियों में किस तरह से भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए. जबकि कार्यशाला में सांसदों के अधिकार और उनके कर्तव्य के बारे में भी जानकारी दी जाती है.

इस दिन होगी कार्यशाला
लोकसभा सचिवालय द्वारा 17वीं लोकसभा के लिए चुने गए नये सांसदों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है. इसका आयोजन संसद के पहले सत्र (बजट सत्र) के दौरान 3 और 4 जुलाई और फिर 9 और 10 जुलाई को होगा.

3 जुलाई को शाम 6:15 बजे कार्यशाला का उद्घाटन होगा. वहीं, इस संबंध में सभी सांसदों को लोकसभा सचिवालय के माध्यम से चिट्ठी लिखी जा चुकी है.

पूरी होगी पीएम की उम्‍मीद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस तरह से सांसदों को संसद की कार्यवाही में अधिक से अधिक शामिल होने और इसमें सहभागिता करने के लिए लगातार कहते हैं, इस दृष्टि से इस तरह की कार्यशाला काफी महत्वपूर्ण है.

ये भी पढ़ें-दफनाने की हो रही थी तैयारी, लेकिन जिंदा हो उठा मुर्दा, परिजन लेकर भागे अस्पताल
Loading...

पिता की हत्या के वक्त उम्र थी एक माह, अब 29 साल बाद लिया बदला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 3, 2019, 11:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...