किराएदारों को नहीं मिलेगा बिजली पर अरविंद केजरीवाल के ऐलान का फायदा, आप बोली- बना रहे हैं योजना

राज्य की आम आदमी पार्टी सरकार की योजना है कि वह इन मतदाताओं को भी लुभा सके. बता दें दिल्ली में करीब 60 फीसदी ऐसे मतदाता हैं जो किराएदार हैं.

News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 6:29 PM IST
किराएदारों को नहीं मिलेगा बिजली पर अरविंद केजरीवाल के ऐलान का फायदा, आप बोली- बना रहे हैं योजना
राज्य की आम आदमी पार्टी सरकार की योजना है कि वह इन मतदाताओं को भी लुभा सके. बता दें दिल्ली में करीब 60 फीसदी ऐसे मतदाता हैं जो किराएदार हैं.
News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 6:29 PM IST
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को ऐलान किया कि राज्य की जनता को 200 यूनिट तक बिजली मुफ्त दी जाएगी. इसके साथ ही 201 से 400 यूनिट तक खर्च करने वाले बिजली उपभोक्ता को भी 50 फीसदी की सब्सिडी मिलेगी. केजरीवाल ने कहा था कि यह सारा खर्च दिल्ली की राज्य सरकार वहन करेगी. हालांकि इसका फायदा सिर्फ उन लोगों को होगा दिल्ली में मकान मालिक हैं. अगर उन मकानों में किराएदार रहते हैं तो उनके लिए इस योजना का लाभ मिलना दूर की कौड़ी दिख रहा है.

हालांकि राज्य की आम आदमी पार्टी सरकार की योजना है कि वह इन मतदाताओं को भी लुभा सके. बता दें दिल्ली में करीब 60 फीसदी ऐसे मतदाता हैं जो किराएदार हैं.

दिल्ली के सांध्य दैनिक- सांध्य टाइम्स के अनुसार मजदूर किरायेदार विकास पार्टी के अध्यक्ष महेंद्र पासवान ने कहा कि सरकार की इस योजना का लाभ मकान मालिकों को ही होगा जबकि किरायेदारों को इससे कोई फायदा नहीं होगा.

यह भी पढ़ें:  दिल्ली: चाहते हैं न आए बिल, तो इस तरह करें बिजली का इस्तेमाल

किराएदारों से मनमर्जी बिजली का दाम

पासवान ने दावा किया कि मकान मालिक अपने किराएदारों से मनमर्जी बिजली का दाम वसूलते हैं. अगर किराएदार वाजिब बिजली के दरों पर रहने की मांग करते हैं तो उनसे मकान खाली कराने की बात कही जाती है. ऐसे में लाखों किराएदार 8 से 10 रुपए तक प्रति यूनिट बिजली का पेमेंट करते हैं.

पासवान ने जानकारी दी कि केजरीवाल की घोषणा के बाद उन्होंने किराएदारों की एक मीटिंग बुलाई. इसमें फैसला लिया गया कि 100 से 200 किराएदारों की बैठक बुलाई जाएगी. इसी दिन यह तय होगा कि किराएदार अपनी मांग किस तरह से उठाएं कि उन्हें भी 200 यूनिट मुफ्त बिजली की योजना का लाभ मिले.
Loading...

आम आदमी पार्टी  ने कहा

इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता और विधायक सौरभ भारद्वा ने कहा कि दिल्ली सरकार सभी को लाभ देने के पक्ष में है. किराएदारों को महंगी मिल रही बिजली की दिशा में भी काम किया जा रहे हैं.इसके लिए भी योजना बनाई जा रही है.

केजरीवाल के ऐलान से पहले  बिजली नियामक दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (डीईआरसी) ने बुधवार को 2019-20 के लिए नयी बिजली दरें घोषित कीं थीं. इसके तहत मीटर के किराये को कम और प्रति इकाई बिजली की दरों को बढ़ाया गया है. इससे घरेलू श्रेणी के सभी ग्राहकों को बिजली बिल में 750 रुपये तक की बचत होगी.

यह भी पढ़ें:   ANALYSIS: मुफ्त बिजली क्यों हैं केजरीवाल का Master Stroke?
First published: August 2, 2019, 6:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...