ओला से बुक कराया कैब, फिर उसी कार को लूटकर फरार हुए बदमाश

पीड़ित चालक उत्तर प्रदेश के अमरोहा स्थित पहाड़पुर का रहने वाला है. चालक का नाम ब्रह्मपाल सिंह है. वो ग्रेटर नोएडा में किराए पर रहता है और स्विफ्ट डिजायर कार बतौर कैब ओला में चलाता है.

News18Hindi
Updated: May 30, 2019, 9:06 AM IST
ओला से बुक कराया कैब, फिर उसी कार को लूटकर फरार हुए बदमाश
प्रतीकात्मक फोटो
News18Hindi
Updated: May 30, 2019, 9:06 AM IST
देश की राजधानी नई दिल्ली से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां बदमाशों ने कैब चालक को बंधक बनाकर जमकर लूटपाट की. इस दौरान चालक को जमकर पीटा भी गया. कहा जा रहा है कि लूटपाट करने के बाद बदमाश चालक को सूनसान जगह पर भेंक कर कैब, दो मोबाइल और छह हजार रुपए लेकर फरार हो गए. चालक की शिकायत के बाद स्थानीय थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक, मामला दिल्ली में करनाल बाईपास का है. कहा जा रहा है कि मंगलवार रात चार बदमाशों ने कैब चालक को बंधक बनाकर 2 घंटे तक घुमाया. फिर पिस्टल की बट से घायल कर नोएडा सेक्टर-105 में फेंककर फरार हो गए. जाते समय बदमाश कैब, दो मोबाइल और छह हजार रुपए भी लूट ले गए. शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने केस को दिल्ली भेजने की बात कही है. पुलिस का कहना है कि मामला दिल्ली का है. ऐसे में दिल्ली पुलिस ही मामले की जांच करेगी.खास बात यह है कि बदमाश चालक को बंधक बनाकर नोएडा, दिल्ली और गुरुग्राम घुमाते रहे लेकिन इस दौरान पुलिस ने वाहन को चेक नहीं किया.

अमरोहा का रहने वाला है चालक

सूत्रों के मुताबिक, पीड़ित चालक उत्तर प्रदेश के अमरोहा स्थित पहाड़पुर का रहने वाला है. चालक का नाम ब्रह्मपाल सिंह. वो ग्रेटर नोएडा में किराए पर रहता है और स्विफ्ट डिजायर कार बतौर कैब ओला में चलाता है. रात करीब 12 बजे वह कैब लेकर बाईपास से गुजर रहा था, तभी करोलबाग तक के लिए बुकिंग मिली. करनाल रोड पर 4 युवक बैठे और करोलबाग के लिए चल पड़े. वहां पहुंचने पर युवकों ने गुरुग्राम चलने को कहा. वहां पहुंच कर आरोपियों ने गाड़ी रुकवाकर शराब खरीदी. फिर नोएडा चलने को कहा. लेकिन युवकों की गतिविधि देखकर चालक ने इंकार कर दिया.

दिल्ली छोड़ने पर हुई थी बात

ऐसे में आरोपियों ने दिल्ली छोड़ने की बात कही. चालक तैयार हो गया. इसी बीच एक बदमाश ने पिस्टल निकाली और दो ने हाथ पांव बांधना शुरू कर दिया. विरोध करने पर पिस्टल की बट मारकर घायल कर दिया. फिर दो घंटे घुमाने के बाद नोएडा सेक्टर-105 में फेंककर फरार हो गए. इसके बाद पीड़ित चालक मदद के लिए 100 नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी.

रिपोर्ट- रत्नेश दिनेश मिश्रा
Loading...

ये भी पढ़ें- 

बिहार: जमुई के अपहृत तीनों युवकों का शव नवादा से बरामद, 24 मई को किया गया था अपहरण

कांग्रेस MLA का बड़ा आरोप- बिहार प्रभारी ने पैसे लेकर टिकट बांटे इसलिए हुई करारी हार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: May 30, 2019, 7:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...