सुषमा स्वराज ने कहा था, 'अगर सोनिया गांधी PM बनीं तो सिर मुंडवा लूंगी, सफेद साड़ी पहनूंगी और जमीन पर सोउंगी'

सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) विदेशी मूल के मुद्दे पर सोनिया गांधी को पीएम बनने से रोकने वाली नेत्री!

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 6:24 AM IST
सुषमा स्वराज ने कहा था, 'अगर सोनिया गांधी PM बनीं तो सिर मुंडवा लूंगी, सफेद साड़ी पहनूंगी और जमीन पर सोउंगी'
शानदार रहा है सुषमा स्वराज का सियासी सफर
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 6:24 AM IST
बात 2004 की है जब लोकसभा चुनाव में यूपीए (UPA) ने एनडीए (NDA) को हरा दिया था. कांग्रेस ने तैयारी की कि वो सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के नेतृत्व में सरकार बनाएगी. लेकिन, बीजेपी इसके विरोध में आ गई और जमकर प्रदर्शन किए. इस विरोध का नेतृत्व सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) ने किया.

स्वराज ने कहा था, 'संसद सदस्य बनकर अगर संसद में जाकर बैठती हूं तो हर हालत में मुझे उन्हें (सोनिया को) माननीय प्रधानमंत्री जी कहकर संबोधित करना होगा, जो मुझे गंवारा नहीं है. मेरा राष्ट्रीय स्वाभिमान मुझे झकझोरता है. मुझे इस राष्ट्रीय शर्म में भागीदार नहीं बनना..." स्वराज ने ऐलान किया कि अगर सोनिया गांधी पीएम बनती हैं तो वो सिर मुंडवा लेंगी, सफेद साड़ी पहनेंगी, भिक्षुणी की तरह जमीन पर सोएंगी और सूखे चने खाएंगी.

उनकी इस घोषणा से देश सकते में आ गया. इसके बाद हुआ भी कुछ ऐसा ही. जब यूपीए सोनिया गांधी को पीएम बनाने के लिए तैयार था तब सोनिया ने खुद आगे बढ़कर घोषणा कर दी कि वो प्रधानमंत्री नहीं बनेंगी. जब भी सोनिया गांधी के विदेशी मूल का मुद्दा सामने आएगा तब-तब सुषमा स्वराज का भी नाम लिया जाएगा. क्योंकि वो इसी मुद्दे पर सोनिया गांधी को पीएम बनने से रोकने वाली सबसे बड़ी नेत्री थीं.

Sushma Swaraj, Sushma Swaraj death, Sushma Swaraj news, BJP leader Sushma Swaraj, AIIMS, political careers of sushma swaraj, सुषमा स्वराज का निधन, सुषमा स्वराज का समाचार, सुषमा स्वराज का राजनीति करियर, सुषमा स्वराज का जन्म, rip Sushma Swaraj, Sushma Swaraj and Jp Movement, सुषमा स्वराज और जेपी आंदोलन. Sonia Gandhi vs Sushma Swaraj, सुषमा स्वराज बनाम सोनिया गांधी
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का हार्ट अटैक के चलते 67 की उम्र में निधन हो गया (फाइल फोटो)


सितंबर 2013 में भी सुषमा स्वराज ने सोनिया गांधी के पीएम बनने के सवाल पर 2004 की तरह ही बात की. एक कार्यक्रम में सुषमा ने कहा, "मैंने हमेशा कहा है कि सोनिया गांधी हमारे देश में इंदिरा गांधी की पुत्रवधू और राजीव गांधी की पत्नी के रूप में आई थीं और इस प्रकार वह हमारे प्यार और स्नेह की हकदार हैं. कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में वह हमारे सम्मान की हकदार हैं, लेकिन अगर वह प्रधानमंत्री बनना चाहती हैं, तो मैं नहीं कहूंगी.

सुषमा ने तब कहा था कि देश लंबे समय तक विदेशी शासन के अधीन रहा और आजादी के लिए कई लोगों ने अपने जीवन का बलिदान दिया था. अगर 60 साल की आजादी के बाद, हम किसी विदेशी को शीर्ष पद पर बिठाते हैं, तो इसका मतलब यह होगा कि 100 करोड़ लोग अक्षम हैं. इससे लोगों की संवेदनशीलता प्रभावित होगी. यही कारण था कि मैंने 1999 में बेल्लारी से चुनाव लड़ा और यह मेरे लिए एक मिशन था. बेल्लारी में मैं लड़ाई हार गई, लेकिन युद्ध जीत गई.

ये भी पढ़ें:
Loading...

सुषमा स्वराज का सफर: इंदिरा और सोनिया दोनों से लिया लोहा!

सिर्फ 25 साल की उम्र में बन गईं थीं मंत्री, शानदार रहा है राजनीतिक सफर!
First published: August 7, 2019, 6:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...