News18 Rising India: राइजिंग इंडिया समिट क्यों ?

राइजिंग इंडिया में देश के दिग्गजों के साथ-साथ दुनिया की कई मशहूर हस्तियां भी शिरकत करेंगी.

News18Hindi
Updated: March 9, 2018, 3:41 PM IST
News18 Rising India: राइजिंग इंडिया समिट क्यों ?
राइजिंग इंडिया समिट
News18Hindi
Updated: March 9, 2018, 3:41 PM IST
अमेरिकी लेखक मार्क ट्वेन ने भारत के बारे में लिखा है- 'भारत मानव जाति का पालना है, मनुष्य की वाणी का जन्‍म स्‍थान है, इतिहास की जननी है और विभूतियों की दादी है और इन सब के ऊपर परम्‍पराओं की परदादी भी है. मानव इतिहास में हमारी सबसे कीमती और सबसे अधिक ज़रूरी सामग्रियों का खजाना केवल भारत में है!' देश के सबसे बड़े टीवी समूह न्यूज 18 नेटवर्क के कार्यक्रम राइजिंग इंडिया में भी भारत के इन्हीं पहलुओं पर चर्चा की जाएगी.

भारत हर क्षेत्र में तेजी से विकास कर रहा है. 70 साल पहले शुरू हुआ ये सफर धीरे-धीरे अपनी मंजिल की ओर पहुंच रहा है. दुनिया के पटल पर भारत के मजबूत छवि को दिखाने का वक्त आ गया है. इसी के तहत न्यूज 18 के कार्यक्रम राइजिंग इंडिया समिट का शुभारंभ 16 मार्च को होगा. राइजिंग इंडिया समिट के तहत नेटवर्क 18 देश और दुनिया के कई विशिष्ट जनों के साथ संवाद स्थापित करेगा. इस कार्यक्रम में देश के दिग्गजों के साथ-साथ दुनिया की कई मशहूर हस्तियां भी शिरकत करेंगी.

भारत को कैसे आगे ले जाना है ?
अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के मुताबिक, भारत की वृद्धि दर 2018 में 7.4 प्रतिशत रहेगी. इस तरह भारत इस फाइनेंशियल ईयर में भी उभरती अर्थव्यवस्थाओं मे सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा. इसके आलावा भारत की अर्थव्यवस्था 2018 में डॉलर के संदर्भ में ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ देगी. साथ ही 2032 में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगी. राइजिंग इंडिया कार्यक्रम के दौरान भारतीय राजनीति, बिजनेस, स्पोर्ट्स और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का थिंक टैंक इन्हीं मुद्दों पर चर्चा करेंगे कि इसे आगे कैसे लेकर जाना है.

इस दौरान हमारी संस्कृति के साझा मूल्यों जैसे- व्यक्ति की स्वतंत्रता, सामाजिक न्याय, समान अवसरों की उपलब्धता पर भी चर्चा होगी.

टीम इंडिया
राजनीति की बात करें तो मोदी के नेतृत्व में भारत बीजेपी ने 2014 में न सिर्फ बहुमत हासिल किया बल्कि अब वो देश के 18 राज्यों में भी सरकार चला रही है या फिर उसका हिस्सा है. अब आगे क्या होगा ? पीएम मोदी ने स्टेट और सेंटर को साथ मिलकर 'टीम इंडिया' की तरह काम करने के लिए प्रोत्साहित किया है और नीति आयोग को इस काम को सफल बनाने की जिम्मेदारी भी दी गई है. हालांकि कई गैर बीजेपी सीएम इसे सीधे-सीधे केंद्र का हस्तक्षेप भी मान रहे हैं. आखिर नीति आयोग इससे कैसे निपटेगा?

Loading...

ये होंगे मुख्य वक्ता
पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा गबोन के राष्ट्रपति अली बांगो ओंडिंबा, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, शिवराज सिंह चौहान, नितिन गडकरी, स्मृति ईरानी, चंदा कोचर, निर्मला सीतारमण, पॉल क्रुगमैन, पीयूष गोयल, कैप्टन अमरिंदर सिंह, शाहरुख़ खान, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ आदि इस कार्यक्रम में अपनी बात रखेंगे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->
काउंटडाउन
काउंटडाउन 2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे
2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे