दिल्ली में उफान पर यमुना, गर्भवती महिला ने पेड़ पर चढ़कर बचाई जान

News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 4:28 PM IST
दिल्ली में उफान पर यमुना, गर्भवती महिला ने पेड़ पर चढ़कर बचाई जान
पेड़ पर चढ़कर बचाई जान

दिल्ली में बुधवार को प्रशासन की रेस्क्यू टीम ने एक गर्भवती महिला को बचाया जो रात भर पेड़ पर बैठी रही.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2019, 4:28 PM IST
  • Share this:
जावेद मंसूरी

दिल्ली (Delhi) में यमुना (Yamuna) नदी अपना रौद्र रूप दिखा रही है. यमुना का जलस्‍तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच चुका है. इसके चलते निचले इलाकों में पानी भर गया है. हजारों लोगों को निचले इलाकों से ऊपरी इलाकों में शिफ्ट किया गया है. इसी बीच बुधवार को प्रशासन की रेस्क्यू टीम ने एक गर्भवती महिला को बचाया जो रात भर पेड़ पर बैठी रही. महिला के साथ उसके पति और दो बच्चे भी थे.

उस्मानपुर (Usmanpur) के जीरो पुस्ता में एक गर्भवती महिला ने पेड़ पर चढ़कर अपनी जान बचाई. जीरो पुस्ता की झुग्गियों में रहने वाले जहांगीर रिक्शा चलाते हैं. यमुना का पानी जब इनके इलाके में घुसना शुरू हुआ, पत्नी नूरजहां अपने पति का इंतजार कर रही थी. जहांगीर जब तक पहुंचे तब तक पानी इतना ज्यादा हो चुका था कि इनका निकलना मुश्किल था. जहांगीर, उनकी गर्भवती पत्नी नूरजहां और दो बच्चे झुग्गी के पास बने पेड़ पर चढ़ गए. जहांगीर ने बताया कि मंगलवार रात से उनका परिवार पेड़ पर चढ़ा हुआ था. बुधवार सुबह 11 बजे 100 नंबर पर पुलिस को कॉल कर बुलाया.

गर्भवती महिला को सुरक्षित स्थान पर ले जाती रेस्क्यू टीम


पुलिस ने रेस्क्यू टीम से संपर्क किया. रेस्क्यू टीम बोट और गोताखोरों के साथ जहांगीर की झुग्गी तक पंहुची. वहां उन्हें पेड़ से उतारकर बाहर लाया गया.

बता दें कि यमुना का खतरे का निशान 205.33 मीटर है जो 206.60 मीटर पर बह रही है. प्रशासन ने छह हजार लोगों को निचले इलाकों से खाली करवाकर सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किया है. 1200 कैम्प अलग-अलग जगह इनके लिए बनवाए गए हैं.

ये भी पढ़ें-
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 4:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...