लाइव टीवी

550वां प्रकाश पर्व: गुरु नानक के जन्मदिन पर 85 तरह के फूलों से स्वर्ण मंदिर की सजावट

News18Hindi
Updated: November 11, 2019, 1:59 PM IST
550वां प्रकाश पर्व: गुरु नानक के जन्मदिन पर 85 तरह के फूलों से स्वर्ण मंदिर की सजावट
550वां प्रकाश पर्व पर स्वर्ण मंदिर की सजावट

मंदिर फूलों की खुशबू से सराबोर है. आइए जानते हैं कि किस तरह की गयी हैं 550वें प्रकाश पर्व के लिए स्वर्ण मंदिर में तैयारियां...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 1:59 PM IST
  • Share this:
550वां प्रकाश पर्व: सिख धर्मगुरु गुरुनानक के 550वें प्रकाश पर्व (जन्मदिन) से एक दिन पहले ही जश्न की तैयारियां जोरों पर है. प्रकाश पर्व से एक दिन पहले ही पंजाब के अमृतसर में स्थित स्वर्ण मंदिर (श्री हरमिंदर साहब) की फूलों से सजावट की गई. मंदिर की सजावट 85 तरह के अलग अलग फूलों से की गई है. मंदिर फूलों की खुशबू से सराबोर है. आइए जानते हैं कि किस तरह की गयी हैं 550वें प्रकाश पर्व के लिए स्वर्ण मंदिर में तैयारियां...

इसे भी पढ़ें: 550वां प्रकाश पर्व: जानें कब है गुरुनानक जयंती और कैसे मनाई जाती है

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, 10 नवंबर को आठ ट्रक मंदिर की सजावट के लिए फूल लेकर मंदिर पहुंचे. मंदिर की सजावट करने वाले कारीगरों ने स्वरंग मंदिर के पांचों दरवाजों की अलग अलग तरीके से सजावट की है और भक्तों के स्वागत के लिए भी बेहद खूबसूरत तरीके से गेट को सजाया गया है.

550वां प्रकाश पर्व
550वां प्रकाश पर्व


इसे भी पढ़ें:  550वां प्रकाश पर्व: पढ़ें गुरुनानक देव जी के ये दोहे

इसके अलावा जिस जगह से दर्शन किये जाते हैं, गुरुद्वारा लाची साहिब, थडा साहिब, श्री अकाल तख्त साहिब, परिक्रमा और अमृतसर के ही अन्य 10 महत्वपूर्ण गुरुद्वारों को बेहद खूबसूरत तरीके से फूलों को सजाया गया है. फूलों की सजावट करने वाले स्वर्ण मंदिर के सेवादार सविंदरपाल सिंह ने जानकारी दी कि नौ सितंबर को रविवार को ही फूलों की सप्लाई करने वाले व्यापारी ने हॉलैंड, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, केन्या, मलेशिया और थाईलैंड से 85 तरह के फूल मंगवाए थे.

कौन थे गुरु नानक:
Loading...

सिख धर्म की स्थापना गुरु नानक देव ने ही की थी. पंजाबी भाषा में लिखे उसके सूफी उपदेश, दोहे और कविताएं आज भी दोनों के लिए काफी प्रेरणादायक हैं. उन्हें कई भाषाओं (हिंदी, संस्कृत और फ़ारसी) का गहरा ज्ञान था. उन्हें कई कविताओं और दोहों की रचना की.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 10:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...