लाइव टीवी

550वां प्रकाश पर्व: गुरु नानक जयंती मनाने सुल्तानपुर लोधी पहुंचे लाखों श्रद्धालु

भाषा
Updated: November 12, 2019, 11:07 AM IST
550वां प्रकाश पर्व: गुरु नानक जयंती मनाने सुल्तानपुर लोधी पहुंचे लाखों श्रद्धालु
पूरे पंजाब में गुरबानी का स्वर गूंज रहा है. पंजाब समेत देश भर में प्रकाश पर्व पर उत्सव का माहौल है.

पंजाब समेत देश भर में प्रकाश पर्व पर उत्सव का माहौल है. पूरा राज्य धार्मिक उत्साह में डूबा हुआ है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 12, 2019, 11:07 AM IST
  • Share this:
सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550 जयंती से एक दिन पहले ही सोमवार को पवित्र नगरी सुल्तानपुर लोधी स्थित ऐतिहासिक गुरुद्वारा बेर साहिब में प्रकाश पर्व मनाने के लिए लाखों श्रद्धालु उमड़ पड़े थे. पूरे पंजाब में गुरबानी का स्वर गूंज रहा है. पंजाब समेत देश भर में प्रकाश पर्व पर उत्सव का माहौल है.पूरा राज्य धार्मिक उत्साह में डूबा हुआ है. ‘पंज प्यारे’ के नेतृत्व में विभिन्न जगहों पर ‘नगर कीर्तन’ (धार्मिक जुलूस) निकाले गए, जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया और भजन गाए.

इसे भी पढ़ेंः 550वां प्रकाश पर्व: गुरु नानक के जन्मदिन पर 85 तरह के फूलों से स्वर्ण मंदिर की सजावट

गुरु नानक देव ‘काली बेईं’ में स्नान करते थे

बड़ी संख्या में तीर्थयात्री इस पवित्र नगरी में पहुंचे हैं जहां गुरु नानक देव ने 14 साल बिताए थे और आत्मज्ञान प्राप्त किया था. ऐसा माना जाता है कि गुरु नानक देव ‘काली बेईं’ में स्नान करते थे और फिर एक ‘बेर’ वृक्ष के नीचे ध्यान लगाते थे. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी सोमवार को यहां के ऐतिहासिक सिख तीर्थस्थल पहुंचकर दर्शन किए थे.

विभिन्न धर्मों के लोग गुरुद्वारा में अरदास के लिए आते हैं

गुरदासपुर के डेरा बाबा नानक में दरबार साहिब, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर और हरियाणा के पंचकूला में नाडा साहिब में भी इसी तरह श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी रही. आपको बता दें कि विभिन्न धर्मों के लोग गुरुद्वारा में अरदास के लिए आते हैं. शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह, पंजाब के राज्यपाल वी पी सिंह बदनौर मंगलवार को यहां दर्शन के लिए आ सकते हैं.

भक्तों के लिए ‘लंगर’ की व्यवस्था
Loading...

कपूरथला जिला प्रशासन ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में, देश भर से लाखों श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारा बेर साहिब के दर्शन किए. कई सामाजिक और धार्मिक संगठनों ने आने वाले भक्तों के लिए ‘लंगर’ की व्यवस्था की है. गुरदासपुर से यहां पहुंचे 70 साल के जरनैल सिंह ने कहा कि उन्होंने गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती समारोह के अवसर पर गुरुद्वारा बेर साहिब में मत्था टेका. यह एक बार आने वाला अवसर है, जिसे वह छोड़ना नहीं चाहते थे.

इसे भी पढ़ेंः 550वां प्रकाश पर्व: जानें कब है गुरुनानक जयंती और कैसे मनाई जाती है

‘लाइट एंड साउंड शो’ का आयोजन

अधिकारियों ने बताया कि गुरु नानक देव के दर्शन, उनके जीवन काल की घटनाओं और शिक्षाओं पर आधारित एक ‘लाइट एंड साउंड शो’ का आयोजन किया गया है, जिसे देखने के लिए भारी भीड़ पहुंच रही है. उन्होंने बताया कि 550 वीं जयंती समारोह से पहले सुरक्षा के लिए कड़े प्रबंध किए गए हैं. पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने लोगों से भ्रष्टाचार, अत्याचार और गरीबी जैसी सामाजिक बुराइयों को खत्म करने का प्रण लेकर गुरु नानक देव की जयंती मनाने की अपील की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्म से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 10:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...