होम /न्यूज /धर्म /आज का पंचांग, 02 अक्टूबर 2022: मां कालरात्रि की पूजा आज, जानें शुभ-अशुभ समय और रा​हुकाल

आज का पंचांग, 02 अक्टूबर 2022: मां कालरात्रि की पूजा आज, जानें शुभ-अशुभ समय और रा​हुकाल

आज का पंचांग, 02 अक्टूबर 2022

आज का पंचांग, 02 अक्टूबर 2022

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 02 अक्टूबर दिन रविवार है. आज शारदीय नवरात्रि का सातवां दिन है. इस दिन मां दुर्गा के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि है.
मां कालरात्रि की पूजा करने वालों को किसी प्रकार का भय नहीं रहता है.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 02 अक्टूबर दिन रविवार है. आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि है. आज शारदीय नवरात्रि का सातवां दिन है, जिसे महासप्तमी भी कहते हैं. इस दिन मां दुर्गा के कालरात्रि स्वरूप की आराधना की जाती है. इनसे काल भी डरता है. इनका रूप बड़ा ही डरावना है. इनके बाल खुले हुए रहते हैं और इनका रंग काला है. यह युद्ध की देवी हैं. मां दुर्गा जब रक्तबीज का संहार करने वाली थीं, तब उन्होंने कालरात्रि स्वरूप धारण ​किया था. मां कालरात्रि की पूजा करने वालों को किसी प्रकार का भय नहीं रहता है. मां कालरात्रि को लाल रंग के फूल विशेषकर गुड़हल ​​​प्रिय है.

आज रविवार के दिन आप स्नान के बाद सबसे पहले सूर्य देव की पूजा करें. रविवार के प्रतिनिधि देव भगवान भास्कर यानि सूर्य देव हैं. एक तांबे के लोटे में जल भरकर, उसमें लाल चंदन, अक्षत्, लाल फूल डालकर अर्पित करना चाहिए और इनके किसी भी एक मंत्र का जाप करना चाहिए. इससे सूर्य देव प्रसन्न होते हैं तो कुंडली में भी इनकी स्थिति मजबूत होती है. इससे कार्य में सफलता, यश, पद, प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है. सूर्य के प्रबल होने से पिता के साथ संबंध मधुर रहते हैं.

आज आपको पीतल, तांबा, पीले वस्त्र, नारंगी वस्त्र, घी, गेहूं आदि का दान करना चाहिए. य​ह सूर्य ग्रह से जुड़ी हुई वस्तुएं हैं. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की स्थिति.

02 अक्टूबर 2022 का पंचांग
आज की तिथि – आश्विन शुक्ल सप्तमी
आज का करण – गर
आज का नक्षत्र – मूल
आज का योग – सौभाग्य
आज का पक्ष – शुक्ल
आज का वार – रविवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
सूर्योदय – 06:31:00 AM
सूर्यास्त – 06:26:00 PM
चन्द्रोदय – 12:41:59
चन्द्रास्त – 22:53:59
चन्द्र राशि– धनु

हिन्दू मास एवं वर्ष
शक सम्वत – 1944 शुभकृत
विक्रम सम्वत – 2079
काली सम्वत – 5123
दिन काल – 11:52:15
मास अमांत – आश्विन
मास पूर्णिमांत – आश्विन
शुभ समय – 11:46:38 से 12:34:07 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)
दुष्टमुहूर्त– 16:31:32 से 17:19:01 तक
कुलिक– 16:31:32 से 17:19:01 तक
कंटक– 10:11:40 से 10:59:09 तक
राहु काल– 16:57 से 18:26 तक
कालवेला/अर्द्धयाम– 11:46:38 से 12:34:07 तक
यमघण्ट– 13:21:36 से 14:09:05 तक
यमगण्ड– 12:10:22 से 13:39:24 तक
गुलिक काल– 15:27 से 16:57 तक

Tags: Astrology, Navaratri

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें