होम /न्यूज /धर्म /आज का पंचांग, 07 अक्टूबर 2022: शुक्र प्रदोष व्रत आज, जानें शुभ-अशुभ समय और रा​हुकाल

आज का पंचांग, 07 अक्टूबर 2022: शुक्र प्रदोष व्रत आज, जानें शुभ-अशुभ समय और रा​हुकाल

आज का पंचांग, 07 अक्टूबर 2022

आज का पंचांग, 07 अक्टूबर 2022

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 07 अक्टूबर दिन शुक्रवार है. आज शुक्र प्रदोष व्रत है. आज भगवान शिव की पूजा प्रदोष मुह ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि है. सुबह 07:28 बजे से त्रयोदशी तिथि लग जाएगी.
शुक्र प्रदोष व्रत को रखने से सुख-समृद्धि प्राप्त होती है. संकट दूर होते हैं

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 07 अक्टूबर दिन शुक्रवार है. आज आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि है. आज सुबह 07:28 बजे से त्रयोदशी तिथि लग जाएगी. इसलिए आज शुक्र प्रदोष व्रत है. आज भगवान शिव की पूजा प्रदोष मुहूर्त में की जाती है और व्रत रखा जाता है. शुक्र प्रदोष व्रत को रखने से सुख, समृद्धि प्राप्त होती है. शिव कृपा से सभी संकट दूर होते हैं, ग्रह दोष मिट जाते हैं. हर माह में दो प्रदोष व्रत होते हैं, एक शुक्ल पक्ष में और दूसरा कृष्ण पक्ष में. प्रदोष व्रत दोषों को दूर करता है. इस व्रत को करने से ही चंद्र देव क्षय रोग से मुक्त हुए थे. आज शिव जी को सफेद फूल अर्पित करने से मनोकामनाएं पूर्ण होंगी. जो लोग कल पापांकुशा एकादशी का व्रत थे, वे आज सूर्योदय बाद पारण
करके व्रत को पूरा करेंगे.

आज शुक्र प्रदोष व्रत रखने से कुंडली में शुक्र ग्रह भी अच्छा होगा. शुक्रवार को शुक्र दोष को दूर करने के उपाय किए जाते हैं. आज आज शुक्र ग्रह के बीज मंत्र का जाप करें. इसके अलावा किसी गरीब ब्राह्मण को इत्र, सुगंधित पदार्थ, सफेद वस्त्र, चावल, शक्कर, चांदी आदि का दान करें. इससे शुक्र मजबूत होता है क्योंकि ये सभी वस्तुएं शुक्र ग्रह से संबंधित हैं.

शुक्रवार को माता लक्ष्मी को भी प्रसन्न करने के उपाय किए जाते हैं. इसका सीधा उपाय है शुक्रवार का व्रत रखना और लक्ष्मी पूजन करना. माता लक्ष्मी को मखाने की खीर का भोग लगाएं. लक्ष्मी चालीसा, श्रीसूक्त, कनकधारा स्तोत्र आदि का पाठ करना भी लाभदायक होता है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की स्थिति.

07 अक्टूबर 2022 का पंचांग
आज की तिथि – आश्विन शुक्ल द्वादशी
आज का करण – बलव
आज का नक्षत्र – शतभिषा
आज का योग – गंड
आज का पक्ष – शुक्ल
आज का वार – शुक्रवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
सूर्योदय – 06:32:00 AM
सूर्यास्त – 06:21:00 PM
चन्द्रोदय – 16:45:59
चन्द्रास्त – 28:26:00
चन्द्र राशि– कुम्भ

हिन्दू मास एवं वर्ष
शक सम्वत – 1944 शुभकृत
विक्रम सम्वत – 2079
काली सम्वत – 5123
दिन काल – 11:43:49
मास अमांत – आश्विन
मास पूर्णिमांत – आश्विन
शुभ समय – 11:45:24 से 12:32:19 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)
दुष्टमुहूर्त– 10:11:34 से 10:58:36 तक, 14:53:46 से 15:40:48 तक
कुलिक– 10:11:34 से 10:58:36 तक
कंटक– 14:53:46 से 15:40:48 तक
राहु काल– 10:58 से 12:27 तक
कालवेला/अर्द्धयाम– 16:27:50 से 17:14:52 तक
यमघण्ट– 07:03:26 से 07:50:28 तक
यमगण्ड– 06:16:24 से 07:44:35 तक
गुलिक काल– 08:01 से 09:30 तक

Tags: Dharma Aastha, Lord Shiva

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें