Home /News /dharm /

aaj ka panchang 13 august 2022 subh muhurat and rahu kaal kar

आज का पंचांग, 13 अगस्त 2022: आज करें शनि देव की पूजा, जानें शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का पंचांग, 13 अगस्त 2022

आज का पंचांग, 13 अगस्त 2022

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 13 अगस्त है. आज भाद्रपद कृष्ण द्वितीया है. आज शनिवार के दिन आपको कर्मफलदाता शनि देव की आराधना करनी चाहिए.

हाइलाइट्स

आज भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि है.
साढ़ेसाती और ढैय्या की पीड़ा से राहत पाने के लिए शनि मंदिर में जाकर छाया दान किया जाता है.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 13 अगस्त दिन शनिवार है. आज भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि है. भाद्रपद माह में श्रीकृष्ण जन्माष्टी, हरतालिका तीज और गणेश चतुर्थी जैसे महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार आते हैं, जिसका पूरे साल लोगों को इंतजार रहता है. आज शनिवार के दिन आपको कर्मफलदाता शनि देव की आराधना करनी चाहिए. शनि देव को पूजा के समय नीले रंग के फूल, काले और नीले रंग के वस्त्र, शमी के पत्ते, काला तिल आदि अ​र्पित किया जाता है. सरसों के तेल से शनि देव का अभिषेक भी करते हैं. इससे शनि ग्रह से जुड़े दोष और उससे होने वाली पीड़ा भी शांत होती है. शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या की पीड़ा से राहत पाने के लिए आज के दिन शनि मंदिर में जाकर छाया
दान किया जाता है. इसके लिए एक पात्र में सरसों का तेल लेते हैं और उसमें अपनी छाया देखते हैं. फिर उसे दान कर देते हैं.

शनि देव की कृपा पाने और उनको प्रसन्न करने के लिए आज के दिन आपको शमी के पेड़ की पूजा करनी चाहिए. शाम के समय में पीपले के पेड़ के नीचे सरसों के तेल के दीपक जलाने से भी शनि देव प्रसन्न होते हैं. तिल के तेल से शनि देव की आरती करते हैं तो शनि देव की कृपा प्राप्त होगी. आज पूजा के समय शनि रक्षा स्तोत्र, शनि चालीसा, शनि कवच आदि का पाठ करना भी लाभदायक होता है. शनि कृपा पाने के लिए आप आज लोहे या स्टील के बर्तन, काला तिल, उड़द की दाल, शनि चालीसा, चमड़े के जूते या चप्पल, काला कपड़ा आदि का दान करना भी उपयोगी होता है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की

13 अगस्त 2022 का पंचांग
आज की तिथि – भाद्रपद कृष्णपक्ष द्वितीया
आज का करण – तैतिल
आज का नक्षत्र – शतभिषा
आज का योग – शोभन
आज का पक्ष – कृष्ण
आज का वार – शनिवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
सूर्योदय – 06:14:00 AM
सूर्यास्त – 07:13:00 PM
चन्द्रोदय – 20:19:59
चन्द्रास्त – 06:52:00
चन्द्र राशि– कुंभ

हिन्दू मास एवं वर्ष
शक सम्वत – 1944 शुभकृत
विक्रम सम्वत – 2079
काली सम्वत – 5123
दिन काल – 13:13:59
मास अमांत – श्रावण
मास पूर्णिमांत – भाद्रपद
शुभ समय – 11:59:20 से 12:52:16 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)
दुष्टमुहूर्त– 05:48:49 से 06:41:44 तक, 06:41:44 से 07:34:40 तक
कुलिक– 06:41:44 से 07:34:40 तक
कंटक– 11:59:20 से 12:52:16 तक
राहु काल– 09:29 से 11:06 तक
कालवेला/अर्द्धयाम– 13:45:12 से 14:38:08 तक
यमघण्ट– 15:31:04 से 16:24:00 तक
यमगण्ड– 14:05:03 से 15:44:18 तक
गुलिक काल– 06:14 से 07:52 तक

Tags: Astrology, Dharma Aastha

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर