Home /News /dharm /

आज का पंचांग, 23 नवंबर 2021: मंगलवार को बजरंगबली की पूजा से दूर होता संकट, जानें शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का पंचांग, 23 नवंबर 2021: मंगलवार को बजरंगबली की पूजा से दूर होता संकट, जानें शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का पंचांग

आज का पंचांग

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज मंगलवार (Wednesday) है. मंगलवार के दिन भगवान बजरंगबली (Bajrangbali) की पूजा की जाती है. बजरंगबली संकटमोचन (Sankat mochan) के रूप में जाने जाते हैं. यह माह मार्गशीर्ष (Margashirsha Month) का है. हिंदू कैलेंडर (Hindu Calendar) के अनुसार आज का दिन मार्गशीर्ष की चतुर्थी तिथि है. इस महीने को अगहन भी कहा जाता है. यह माह भगवान कृष्ण को समर्पित है. मान्यता के अनुसार इस माह में शंख की पूजा करनी चाहिए. इससे घर में शांति आती है. साथ ही इस महीने में हर दिन विष्णु सहस्रनाम, भगवत गीता और गजेन्द्रमोक्ष का पाठ करना चाहिए. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

अधिक पढ़ें ...

    आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 23 नवंबर है. यह माह मार्गशीर्ष (Margashirsha Month) का है. हिन्दू पचांग के अनुसार मार्गशीर्ष मास को अगहन भी कहा जाता है. मान्यता के अनुसार सत युग में देवों ने मार्गशीर्ष मास की प्रथम तिथि को ही वर्ष प्रारंभ किया. इसी मास में कश्यप ऋषि ने सुन्दर कश्मीर प्रदेश की रचना की. इसी मास में यदि महोत्सवों का आयोजन होता है तो इसे अत्यं‍त शुभ होता है. कहा जाता है कि इस अगहन में श्रीमद भागवत’ ग्रन्थ को देखने भर की विशेष महिमा है. स्कन्द पुराण के अनुसार घर में अगर भागवत हो तो अगहन मास में दिन में एक बार उसको प्रणाम करना चाहिए. अगहन मास को मार्गशीर्ष कहने के पीछे भी कई तर्क हैं. भगवान श्रीकृष्ण की पूजा अनेक स्वरूपों में व अनेक नामों से की जाती है. इन्हीं स्वरूपों में से एक मार्गशीर्ष भी श्रीकृष्ण का रूप है. इसलिए यह माह भगवान कृष्ण को समर्पित है. कहा जाता है कि इस माह में पवित्र नदी में स्नान करना शुभ होता है. इससे पुण्य की मिलता है और पाप नष्ट हो जाते हैं. इस माह में शंख की पूजा करनी चाहिए. मान्यता के अनुसार ऐसा करने से घर में शांति आती है. साथ ही इस महीने में हर दिन विष्णु सहस्रनाम, भगवत गीता और गजेन्द्रमोक्ष का पाठ करना चाहिए.

    आज मंगलवार है यानी बजरंगबली का दिन. आज बजरंगबली की पूजा की जाती है. इसके लिए श्रद्धालु उपवास रखते हैं. स्कंद पुराण (Skand Puran) के अनुसार, मंगलवार के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था, इस कारण से यह दिन उनकी पूजा के लिए समर्पित कर दिया गया. इस दिन विधि विधान के साथ बजरंगबली की पूजा करने से वे जल्द प्रसन्न होते हैं. श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं और संकटों को भी दूर भगाते हैं. यही कारण है कि हनुमान जी को संकटमोचन (sankat mochan) भी कहा जाता है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

    23 नवंबर 2021- आज का पंचांग
    आज की तिथि – मार्गशीर्ष कृष्णपक्ष चतुर्थी
    आज का नक्षत्र – आर्द्रा
    आज का करण – बव
    आज का पक्ष – कृष्ण
    आज का योग – साध्य
    आज का वार – मंगलवार

    सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
    सूर्योदय – 06:573:00
    सूर्यास्त – 05:53:00
    चन्द्रोदय – 20:26:00
    चन्द्रास्त – 10:07:59
    चन्द्र राशि – मिथुन

    हिन्दू मास एवं वर्ष
    शक सम्वत – 1943 प्लव
    विक्रम सम्वत – 2078
    काली सम्वत – 5122
    दिन काल – 10:35:13
    मास अमांत – कार्तिक
    मास पूर्णिमांत – मार्गशीर्ष
    शुभ समय – 11:46:06 से 12:28:27 तक

    अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

    दुष्टमुहूर्त – 08:56:42 से 09:39:03 तक
    कुलिक – 13:10:48 से 13:53:09 तक
    कंटक – 07:32:00 से 08:14:21 तक
    राहु काल – 15:09:00 से 16:31:00 तक
    कालवेला / अर्द्धयाम – 08:56:42 से 09:39:03 तक
    यमघण्ट – 10:21:24 से 11:03:45 तक
    यमगण्ड – 09:28:28 से 10:47:52 तक
    गुलिक काल – 12:25:00 से 13:47:00 तक

    Tags: Religion, धर्म

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर