Home /News /dharm /

आज का पंचांग, 24 नवंबर 2021: आज है मार्गशीर्ष की पंचमी, जानें शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का पंचांग, 24 नवंबर 2021: आज है मार्गशीर्ष की पंचमी, जानें शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का पंचांग

आज का पंचांग

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज बुधवार (Wednesday) है. बुधवार को गणेशजी (Lord Ganesha) की पूजा की जाती है. किसी भी शुभ काम से पहले भगवान गणेश जी की पूजा की जाती है. यह माह मार्गशीर्ष (Margashirsha Month) का है. हिंदू कैलेंडर (Hindu Calendar) के अनुसार आज का दिन मार्गशीर्ष की पंचमी तिथि है. इस महीने को अगहन भी कहा जाता है. यह माह भगवान कृष्ण को समर्पित है. मान्यता के अनुसार इस माह में शंख की पूजा करनी चाहिए. इससे घर में शांति आती है. साथ ही इस महीने में हर दिन विष्णु सहस्रनाम, भगवत गीता और गजेन्द्रमोक्ष का पाठ करना चाहिए. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

अधिक पढ़ें ...

    आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 24 नवंबर है. मार्गशीर्ष (Margashirsha Month) या अगहन महीने के कृष्णपक्ष की पंचमी तिथि है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सत युग में देवों ने मार्गशीर्ष मास की प्रथम तिथि को ही वर्ष प्रारंभ किया. इसी मास में कश्यप ऋषि ने विहंगम कश्मीर प्रदेश की रचना की. मार्गशीर्ष महीने में कई महोत्सवों का आयोजन होता है. कहा जाता है कि इस अगहन में श्रीमद भागवत’ ग्रन्थ को देखने भर की विशेष महिमा है. स्कन्द पुराण के अनुसार घर में अगर भागवत हो तो अगहन मास में दिन में एक बार उसको प्रणाम करना चाहिए. अगहन मास को मार्गशीर्ष कहने के पीछे भी कई तर्क हैं. भगवान श्रीकृष्ण की पूजा अनेक स्वरूपों में व अनेक नामों से की जाती है. इन्हीं स्वरूपों में से एक मार्गशीर्ष भी श्रीकृष्ण का रूप है. इसलिए यह माह भगवान कृष्ण को समर्पित है. कहा जाता है कि इस माह में पवित्र नदी में स्नान करना शुभ होता है. इससे पुण्य की मिलता है और पाप नष्ट हो जाते हैं. इस माह में शंख की पूजा करनी चाहिए. मान्यता के अनुसार ऐसा करने से घर में शांति आती है. साथ ही इस महीने में हर दिन विष्णु सहस्रनाम, भगवत गीता और गजेन्द्रमोक्ष का पाठ करना चाहिए.

    आज बुधवार है. हिन्दू धर्म में प्रत्येक दिन अलग-अलग भगवान को समर्पित है. एक दिन में दो या तीन भगवान की भी पूजा का विधान है. बुधवार के दिन भगवान गणेश जी की पूजा की जाती है. गणेश जी शुभ काम के लिए जाने जाते हैं. किसी भी काम में सफलता के लिए गणेश जी की वंदना की जाती है. गणेश जी में आस्था रखने वाले लोग इस दिन बड़ी ही श्रद्धा के साथ उनकी पूजा-अर्चना और व्रत भी करते हैं. बुधवार को सुबह स्नान कर तांबे के पात्र में भगवान गणेश जी मूर्ति स्थापित की जाती है. इसके बाद पूजा अर्चना के माध्यम से उन्हें मोदक से भोग लगाया जाता है. इस दिन व्रत करने के कई लाभ हैं. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

    24 नवंबर 2021- आज का पंचांग
    आज की तिथि – मार्गशीर्ष कृष्णपक्ष चतुर्थी
    आज का नक्षत्र – पुनर्वसु
    आज का करण – कौलव
    आज का पक्ष – कृष्ण
    आज का योग – शुभ
    आज का वार – बुधवार

    सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
    सूर्योदय – 06:58:00
    सूर्यास्त – 05:53:00
    चन्द्रोदय – 21:19:59
    चन्द्रास्त – 10:56:00
    चन्द्र राशि – मिथुन

    हिन्दू मास एवं वर्ष
    शक सम्वत – 1943 प्लव
    विक्रम सम्वत – 2078
    काली सम्वत – 5122
    दिन काल – 10:34:12
    मास अमांत – कार्तिक
    मास पूर्णिमांत – मार्गशीर्ष
    शुभ समय – अभिजीत -कोई नहीं

    अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

    दुष्टमुहूर्त – 11:46:25 से 12:28:42 तक
    कुलिक – 11:46:25 से 12:28:42 तक
    कंटक – 16:00:06 से 16:42:23 तक
    राहु काल – 12:26:00 से 13:47:00 तक
    कालवेला / अर्द्धयाम – 07:32:44 से 08:15:01 तक
    यमघण्ट – 08:57:18 से 09:39:35 तक
    यमगण्ड – 08:09:44 से 09:29:00 तक
    गुलिक काल – 13:47:00 से 15:09:00 तक

    Tags: Religion, धर्म

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर