Home /News /dharm /

amarnath yatra 2022 to start from 30th june know registration date and all about it

Amarnath Yatra 2022: इंतजार खत्म! 30 जून से शुरु होगी अमरनाथ यात्रा, इस दिन से रजिस्ट्रेशन

कोविड नियमों के साथ शुरू होगी अमरनाथ यात्रा.(फाइल फोटो)

कोविड नियमों के साथ शुरू होगी अमरनाथ यात्रा.(फाइल फोटो)

Amarnath Yatra 2022: कोरोना के कारण दो साल के इंतजार के बाद अमरनाथ यात्रा फिर 30 जून से शुरु हो रही है. इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल (Amarnath Yatra 2022 Corona Protocol) का पालन करना होगा. आइए जानते हैं कब से होगा रजिस्ट्रेशन (Amarnath Yatra 2022 Registration)?

अधिक पढ़ें ...

Amarnath Yatra 2022: कोरोना के कारण दो साल के इंतजार के बाद अमरनाथ यात्रा फिर से शुरु हो रही है. यह यात्रा इस साल 30 जून दिन गुरुवार से शुरु होगी और इसका समापन श्रावण पूर्णिमा यानी रक्षाबंधन के दिन 11 अगस्त को होगा. हालांकि जो लोग अमरनाथ यात्रा पर जाएंगे, उनको कोरोना प्रोटोकॉल (Amarnath Yatra 2022 Corona Protocol) का पूरा पालन करना होगा. जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल कार्यालय ने अमरनाथ यात्रा शुरु किए जाने की जानकारी दी है.

02 अप्रैल से होगा रजिस्ट्रेशन
जानकारी के अनुसार, 30 जून से शुरु होने वाली अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का रजिस्ट्रेशन 02 अप्रैल दिन शनिवार से शुरु होगा. श्रद्धालुओं के रजिस्ट्रेशन का प्रारंभ नवरात्रि के प्रथम दिन से हो रहा है. श्राइन बोर्ड के अनुसार, अमरनाथ यात्रा के लिए एक दिन में 20 हजार श्रद्धालुओं का ही रजिस्ट्रेशन होगा. इसके अलावा बोर्ड की तरफ से निर्धारित काउंटरों से यात्रा के दौरान रजिस्ट्रेशन कराया जा सकेगा. इस साल अमरनाथ यात्रा की कुल अवधि 43 दिनों की होगी.

यह भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रा से जुड़ी बड़ी अपडेट: हर यात्री को मिलेगा RFID टैग कार्ड

रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरी बातें
जो लोग अमरनाथ यात्रा के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं, उनको सबसे पहले अपना स्वास्थ्य प्रमाण पत्र बनवाना होगा. इसके अलावा चार फोटोग्राफ की जरूरत होगी. पंजीकरण J&K बैंक, यस बैंक और पीएनबी की शाखाओं में कराया जा सकता है. रजिस्ट्रेशन फीस कितना होगा, इसके बारे में अभी जानकारी नहीं है, लेकिन पहले 150 रुपये लगते थे.

यह भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रा: जानें इस बार क्या होगी नई व्यवस्था

अमरनाथ यात्रा के लिए 75 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और 13 साल से छोटे उम्र के बच्चों को अनुमति नहीं है. साथ ही डेढ माह से अधिक समय की गर्भवती महिलाएं भी इस यात्रा पर नहीं जा सकती हैं.

हर साल सावन माह में बाबा बफार्नी के दर्शन करने के लिए श्रद्धालु बाबा अमरनाथ की पवित्र गुफा में जाते हैं. यहां पर भगवान शिव ने माता पार्वती को अमरत्व की कहानी सुनाई थी.

Tags: Amarnath Yatra, Dharma Aastha

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर