Home /News /dharm /

ashadha amavasya 2022 know 7 astrology tips for happiness and prosperity kar

Ashadha Amavasya 2022: जीवन में सुख-समृद्धि के लिए आषाढ़ अमावस्या पर करें ये 7 उपाय

आषाढ़ अमावस्या 29 जून दिन बुधवार को है

आषाढ़ अमावस्या 29 जून दिन बुधवार को है

29 जून आषाढ़ अमावस्या (Ashadha Amavasya) को है. दिन आप कुछ आसान उपाय करके अपने जीवन में सुख-समृद्धि ला सकते हैं. आइए जानते हैं इस आसन उपायों के बारे में.

आषाढ़ अमावस्या (Ashadha Amavasya) 29 जून दिन बुधवार को है. पंचांग के अनुसार, आषाढ़ अमावस्या तिथि की शुरुआत 28 जून को सुबह 05:52 बजे हो रहा है. य​ह तिथि 29 जून को सुबह 08:21 बजे तक मान्य है. 29 जून को प्रात: आमवस्या का स्नान और दान किया जाएगा. इससे पुण्य फल की प्राप्ति होती है. आषाढ़ अमावस्या के दिन आप कुछ आसान उपाय करके अपने जीवन में सुख-समृद्धि ला सकते हैं. काशी के ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट से जानते हैं इस आसान उपायों के बारे में.

यह भी पढ़ें: कब है आषाढ़ अमावस्या? जानें ति​थि और स्नान-दान का शुभ मुहूर्त

आषाढ़ अमावस्या के आसान उपाय

1. आषाढ़ अमावस्या को कृषि उपकरणों की पूजा की जाती है. ऐसा करने से फल का उत्पादन अच्छा होता है, जिससे घर के धन धान्य में वृद्धि ​होती है.

2. आषाढ़ अमावस्या पर सुबह स्नान करने के बाद पितरों को जल से तर्पण दें. पानी में अक्षत् और काला तिल मिलाकर तर्पण दें. ब्राह्मणों को भोजन, दान और दक्षिणा दें. कौआ, गाय, कुत्ता को भी भोजन का कुछ अंश दे दें. इससे पितर प्रसन्न होते हैं. वे परिवार में सुख, शांति और वंश वृद्धि का आशीष देते हैं.

यह भी पढ़ें: पितृदोष से नहीं हो रही है तरक्की, तो आषाढ़ अमावस्या पर करें ये उपाय

3. अमावस्या की शाम घर के ईशान कोण में एक दीपक जलाएं. उसमें गाय के घी, केसर और लाल धागे वाली बत्ती का उपयोग करें. मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से धन-धान्य में वद्धि होती है.

4. आषाढ़ अमावस्या की सुबह पीपले के पेड़ की पूजा करें. पीपल के पेड़ में भगवान विष्णु सहित कई देव निवास करते हैं. पूजा में उनको फूल, फल, जनेऊ, धूप, दीप एवं जल आदि अर्पित करें. परिवार की सुख एवं शांति के लिए प्रार्थना करें. आपकी मनोकामना पूर्ण होगी.

5. परिवार में सुख एवं समृद्धि के लिए अमावस्या के दिन मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं. इस उपाय से आपको लाभ हो सकता है.

6. अमावस्या पर नकारात्मक शक्तियों के प्रभाव को दूर करने के लिए एक कुत्ते को रोटी में तेल लगाकर खिलाएं. ऐसा करने से विरोधी और शत्रु दोनों का प्रभाव कम होगा.

7. अमावस्या के अवसर पर दीप दान का विशेष महत्व है. इस दिन आप दीप और फूल एक पत्ते के कटोरे में रखकर जल में प्रवाहित कर दें. ऐसा करने से संकट दूर होते हैं और सुख एवं समृद्धि के मार्ग खुलते हैं.

Tags: Dharma Aastha, Religion

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर