Home /News /dharm /

astro tips how to get rid from navgrah defects saral upay kee

Navgrah Upay: पानी में इन चीजों को मिलाकर करें स्नान, पल में दूर होंगे नवग्रह दोष

हर ग्रह का प्रभाव मनुष्य पर अलग-अलग होता है.  Image-Shutterstock

हर ग्रह का प्रभाव मनुष्य पर अलग-अलग होता है. Image-Shutterstock

ज्योतिष शास्त्र में जातक की कुंडली के हर दोष के लिए अनेक उपाय बताए गए हैं. कुंडली के हर ग्रह का प्रभाव जातक पर अलग होता है. इनसे जुड़े उपाय भी अलग होते हैं.

Navgrah Upay: ज्योतिष शास्त्र एक ऐसी विधा है, जिससे आने वाले भविष्य के बारे में जानकारी प्राप्त कर अनचाही घटनाओं को काफी हद तक कम किया जा सकता है. मनुष्य की कुंडली में मौजूद नवग्रहों के प्रभावों के लिए भी ज्योतिष शास्त्र में कई उपाय बताए गए हैं. जातक की कुंडली में यदि किसी ग्रह की स्थिति सही नहीं होती है, तो व्यक्ति के जीवन में कई उतार-चढ़ाव देखने को मिलते हैं. व्यक्ति अनेक परेशानियों से घिर जाता है. आज के इस आर्टिकल में भोपाल के रहने वाले पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा, ज्योतिषी हमें बता रहें हैं कि नवग्रह दोष से मुक्ति पाने के लिए नहाने के पानी में क्या मिला कर नहाएं, जिससे आपको लाभ हो.

सूर्य
यदि आप सूर्य ग्रह के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं तो लाल रंग के फूल, इलायची, केसर और गुलहठी मिलाकर नहाएं.

चंद्रमा
यदि आप चंद्रमा के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं तो सफेद चंदन, सफेद सुगंधित फूल, गुलाब जल या शंख में जल भरकर स्नान करें.

यह भी पढ़ें – इस नियम से लगाएं दीपक, आपकी मनोकामना होगी पूरी

मंगल
मंगल ग्रह के कुप्रभाव से बचने के लिए नहाने के पानी में लाल चंदन, बेल की छाल, गुड़ मिला कर नहाएं. लाभ होगा.

बुध
यदि आप बुध ग्रह के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं, तो नहाने के पानी में जायफल, शहद, चावल मिला कर नहाएं.

बृहस्पति
यदि आप बृहस्पति ग्रह के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं, तो नहाने के पानी में पीली सरसों, गूलर और चमेली के फूल मिला कर स्नान करें.

शुक्र
शुक्र ग्रह के दुष्प्रभाव से बचने के लिए नहाने के पानी में गुलाब जल, इलायची और सफेद फूल डालकर स्नान करें, लाभ होगा.

शनि
शनि के अशुभ प्रभाव को कम करना चाहते हैं नहाने के पानी में काली तिल, सौंफ, सुरमा या लोबान मिलाकर भी नहा सकते हैं.

यह भी पढ़ें – बैड लक दूर करना चाहते हैं, तो सुबह उठकर अपनाएं ये उपाय

राहु
यदि आप राहु के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं तो नहाने के पानी में कस्तूरी, लोबान मिलाकर स्नान करें.

केतु
केतु के कष्टों से छुटकारा पाने के लिए नहाने के पानी में लोबान, लाल चंदन मिलाकर स्नान करने से लाभ होगा.

Tags: Astrology, Dharma Aastha, Religion

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर