होम /न्यूज /धर्म /इस दिन भूलकर भी ना लें कर्ज, वरना ऋण चुकाने में आ सकती हैं समस्याएं

इस दिन भूलकर भी ना लें कर्ज, वरना ऋण चुकाने में आ सकती हैं समस्याएं

ज्योतिष शास्त्र में कर्ज लेने व देने का भी समय निश्चित किया गया है. image-canva

ज्योतिष शास्त्र में कर्ज लेने व देने का भी समय निश्चित किया गया है. image-canva

जरूरत में बैंक या सेठ-साहुकारों से कर्ज लेना आम बात है. पर कई बार ये कर्ज चाहकर भी नहीं चुक पाता. ऐसे में ज्योतिष शास्त ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कर्ज लौटाने के लिए मंगलवार व बुधवार का दिन शुभ माना गया है.
शुक्रवार को कर्ज लेना व देना दोनों फलदायी माने गए हैं.

बच्चों की पढ़ाई से लेकर शादी व घर बनाने सहित अन्य कार्यों के लिए कर्ज लेना आम बात है, पर बहुत से लोग उस कर्ज को समय पर नहीं चुका पाते. इसकी वजह शास्त्रों में कर्ज लेने या चुकाने के लिए सही समय का चयन नहीं करना माना गया है, जिसकी वजह से चाहने पर भी कर्ज नहीं चूकता. ऐसे में जरूरी है कर्ज लेते और उसे चुकाते समय वार व नक्षत्रों का विशेष ध्यान रखा जाए. आज हम आपको ज्योतिषशास्त्र के अनुसार कर्ज लेने व देने से संबंधित शुभ व अशुभ समय के बारे में बताने जा रहे हैं. 

ये भी पढ़ें: किस देवता की कितनी बार करनी चाहिए परिक्रमा? जानें क्या है सही नियम

कब ना लें कर्ज
पंडित रामचंद्र जोशी के अनुसार कर्ज लेने के लिए कुछ वार व नक्षत्रों का समय अशुभ माना गया है. ये वार मंगलवार, बुधवार व शनिवार तथा हस्त, मूल, आद्रा, ज्येष्ठा, विशाखा, कृतिका, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराषाढ़ा, उत्तराभाद्रपद, रोहिणी आदि नक्षत्र हैं. रविवार को भी कर्ज लेने व देने दोनों की मनाही है. इन वारों व नक्षत्रों में लिया गया ऋण चूकने की संभावना बहुत कम मानी गई. इससे व्यक्ति पर ऋण का बोझ बढ़ता ही जाता है.

कर्ज लेने का शुभ समय
पंडित जोशी के अनुसार सोमवार, गुरुवार व शुक्रवार को कर्ज लेने के लिए उचित दिन माना गया है. वहीं नक्षत्रों की बात करें तो स्वाति,  धनिष्ठा, शतभिषा, पुनर्वसु, चित्रा, अनुराधा, अश्विनी, मृगशिरा, रेवती व पुष्य सरीखे नक्षत्रों में कर्ज लेना शुभ माना गया है. मान्यता है कि इन वारों व नक्षत्रों में लिया गया कर्ज समय पर चुकता होने की संभावना रहती है. 

ये भी पढ़ें: हथेली की यह रेखा बताती है जीवन में कितना मिलेगा सुख-दुख, जानें इसका महत्व

कर्ज लौटाने व देने का समय
कर्ज लौटाने के लिए मंगलवार व बुधवार का दिन शुभ माना गया  है. वृद्धि नामक योग व हस्ति नक्षत्र में कर्ज चुकाने से भी वह जल्दी चूकता है. इसी तरह ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कर्ज देना हो तो बुधवार व गुरुवार को टाल देना चाहिए. शुक्रवार को कर्ज लेना व देना दोनों फलदायी माने गए हैं. बचत योजनाओं में रकम जमा करवाने के लिए बुधवार व गुरुवार का दिन शुभ होता है. 

Tags: Astrology, Dharma Aastha

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें