होम /न्यूज /धर्म /Bheem Hanuman Katha: जब हनुमान जी ने तोड़ा बलशाली भीम का घमंड, मांगनी पड़ी क्षमा

Bheem Hanuman Katha: जब हनुमान जी ने तोड़ा बलशाली भीम का घमंड, मांगनी पड़ी क्षमा

पवनपुत्र हनुमान

पवनपुत्र हनुमान

Bheem Hanuman Katha: महाभारत (Mahabharat) की कथा में भीम को अतिबलशाली बताया गया है. भीम को अपने बल पर अभिमान था. उनके इ ...अधिक पढ़ें

Bheem Hanuman Katha: महाभारत (Mahabharat) की कथा में भीम को अतिबलशाली बताया गया है. उनके अंदर कई हाथियों का बल था, जिसके कारण शत्रु उनसे भयभीत रहते थे. भीमसेन मलयुद्ध में पारंगत थे और उनका अस्त्र गदा था. बताया जाता है कि भीम (Bheem) वायुदेव के अंश थे. भीम को अपने बल पर अभिमान था. उनके इस घमंड को हनुमान जी (Lord Hanuman) ने चूर-चूर कर दिया था. महाभारत के कुछ पात्रों और हनुमान जी से कुछ कथाएं हैं. आज हम आपको हनुमान जी और भीम की कथा के बारे में बताते हैं.

हनुमान जी ने भीम को कर दिया शर्मिंदा
एक समय की बात है. द्रौपदी के कहने पर भीम कमल पुष्प लेने के लिए गंधमादन पर्वत पर स्थित कमल सरोवर के पास पहुंच गए. लेकिन उनसे पहले हनुमान जी रास्ते में लेटे हुए थे और उनकी पूंछ रास्ते को घेरे हुई थी. भीम उसे लांघकर जाना नहीं चाहते थे.

भीम ने हनुमान जी से कहा कि वे अपनी पूंछ को रास्ते से ​हटा लें ताकि वे आगे जा सके. हनुमान जी मुस्कुराते हुए भीम की बातों को अनसुना कर दिया. भीम ने फिर हनुमान जी को पूंछ हटाने के लिए कहा.

यह भी पढ़ें: जब हनुमान जी को मृत्युदंड देने पहुंचे प्रभु श्रीराम, पढ़ें यह पौराणिक कथा

भीम को यह बात ज्ञात नहीं थी कि वो वानर श्रेष्ठ हनुमान जी हैं. हनुमान जी ने कहा कि तुम तो बलशाली हो, खुद ही मेरी पूंछ हटा दो और आगे चले जाओ. भीम इस बात से चिढ़ गए और हनुमान जी की पूंछ हटाने लगे. पहली बार में पूंछ टस से मस न हुई.

फिर भीम ने पूरी ताकत लगाकर पूंछ को हटानी चाही, लेकिन वो पूंछ को हिला भी न सके. हनुमान जी ने भीम के बलशाली होने के घमंड को क्षण भर में ही तोड़ दिया. जब भी थक हार गए, तब उनको लगा कि यह कोई आम वानर नहीं हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: बिजनेस में सफलता के लिए आज ​करें ये 5 उपाय, हनुमान जी दूर करेंगे संकट

भीम ने हनुमान जी से क्षमा मांगी और अपने वास्तविक स्वरुप में दर्शन देने को कहा. तब हनुमान जी मुस्कुराए और फिर अपने विराट स्वरूप का दर्शन भीम को कराया. फिर भीम हनुमान जी का आशीर्वाद लेकर वापस लौट आए. इस प्रकार से भीमसेन का घमंड टूट गया.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Dharma Aastha, Lord Hanuman

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें