Bhishma Ashtami Date: भीम अष्टमी कब है? जानें तारीख, महत्व एवं शुभ मुहूर्त

भीम अष्टमी कब है (credit: instagram/supporttemplefolks)

Bhishma Ashtami Date: भीम अष्टमी का व्रत करने से व्यक्ति को अपने सभी पापों से और पितृ दोष (Pitru Dosh) से मुक्ति मिलती है...

  • Share this:
    Bhishma Ashtami 2021: हिंदू कैलेंडर के अनुसार भीष्म अष्टमी वर्ष 2021 में 19 फरवरी शुक्रवार को है. भीम अष्टमी 19 फरवरी की सुबह 11: 01 से शुरू होकर, अगले दिन 20 फरवरी की दोपहर 01:33 तक रहेगी. ऐसे में इस दौरान दान-पुण्य करने का अपना एक विशेष महत्व होगा. महाभारत के पितामह भीष्म के याद में, हर वर्ष भीम अष्टमी मनाई जाने का विधान हैं. देश के सभी विष्णु मंदिरों में भीम अष्टमी का त्योहार मनाया जाता है.

    पौराणिक कथाओं के अनुसार भीष्म पितामह ने अपनी मृत्यु के लिए, इसी पवित्र तिथि का चयन किया था, अर्थात भीष्म पितामह की मृत्यु इसी दिन हुई थी. उसी दिन से हर वर्ष माघ महीने के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को भीम अष्टमी के रुप में मनाया जाता है.

    भीम अष्टमी का महत्व
    मान्यता अनुसार, भीम अष्टमी का व्रत करने से व्यक्ति को अपने सभी पापों से और पितृ दोष से मुक्ति मिलती है. भीम अष्टमी के दिन जल, कुश और तिल से भीष्म पितामह का तर्पण किया जाता है. इससे वीर एवं योग्य संतान की प्राप्ति होती है.

    श्रीमद्भगवद्गीता में भी इस बात का उल्लेख पढ़ने को मिलता है कि, महाभारत के युद्ध में अर्जुन के तीरों से जख्मी होने के बावजूद भीष्म पितामह 18 दिनों तक मृत्यु शैय्या पर लेटे रहे थे. जिसके बाद अपनी इच्छा से उन्होंने माघ मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को ही, अपनी मृत्यु का वरण कर मोक्ष प्राप्त किया था. (साभार- Astrosage.com)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.