होम /न्यूज /धर्म /इस मंत्र के जाप से शत्रु का हर वार होगा नाकाम, भगवान राम का यह उपाय है बड़ा कारगर

इस मंत्र के जाप से शत्रु का हर वार होगा नाकाम, भगवान राम का यह उपाय है बड़ा कारगर

शत्रुनाश का कारगर उपाय है भगवान राम का ये स्तोत्र.
Image-canva

शत्रुनाश का कारगर उपाय है भगवान राम का ये स्तोत्र. Image-canva

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र भक्तवत्सल होने के कारण सरलता से ही प्रसन्न हो जाते हैं, जिसके कारण उनकी पूजा-अर् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भगवान श्री रामचंद्र की पूजा अर्चना का विशेष महत्व है.
भगवान राम को रामरक्षा स्तोत्र से प्रसन्न करना सुलभ है.
इसके बाद भगवान की अनुपम अनुकंपा प्राप्त होती है.

धार्मिक मान्यता के अनुसार, भगवान श्री राम नारायण के परम अवतार हैं, जिन्होंने सतयुग में अधर्म, पाप और अनाचार के प्रतिमान रावण का वध किया था. भगवान राम की पूजा और आराधना का विशेष महत्व है. महाबली हनुमान भी जिनके भक्त हैं, ऐसे भगवान श्री राम की भक्ति से ना सिर्फ राम जी खुश होते हैं, बल्कि हनुमान जी की ओर शिव जी की भी कृपा बनी रहती है. अगर आपको किसी प्रकार का भय है या आपको लगता है कि आपके ऊपर कोई संकट आने वाला है तो आप एक विशेष मंत्र के बारे में जान सकते हैं, जिससे भगवान श्री रामचंद्र जी जल्द प्रसन्न हो जाते हैं और भक्तों के सभी कष्ट हर लेते हैं.

ये है चमत्कारी मंत्र
श्री राम इस देश के आदर्श हैं, जो स्वयं इस जग के पालनहार श्री नारायण की जागृत शक्ति है, जिनके समक्ष कोई मायावी शक्ति नहीं टिक पाती है. ऐसे में सियापति भगवान श्री रामचंद्र की कृपा पाने के लिए भगवान राम के परम प्रिय ‘राम रक्षा स्तोत्र’ के पाठ सहित विधि-विधान से पूजा-अर्चना करनी चाहिए. इस विशेष स्तोत्र के पाठ से भगवान श्री राम का आशीर्वाद प्राप्त होता है और उनकी कृपा से सभी दुखों, कष्टों और भय व बाधा से मुक्ति मिलती है.

राम रक्षा स्तोत्र
इस चमत्कारी राम रक्षा स्तोत्र मंत्र की रचना परम ज्ञानी और विद्वत ऋषि बुधकौशिक जी ने की थी. मंत्र में वर्णन के हिसाब से माता सीता और भगवान श्री रामचंद्र को पूजा गया है. मंत्र की रचना में अनुष्टुप छंद का प्रयोग किया गया है, जिसकी परम शक्ति देवी सीता हैं. उक्त मंत्र स्तोत्र में कीलक श्री राम जी के परम भक्त हनुमान जी हैं. रामरक्षा स्तोत्र का विशेष महत्व है, जिसके नियमित जाप से भगवान श्री राम अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं और उनकी रक्षा करते हैं.

यह भी पढ़ें – धन प्राप्ति और व्यापार में वृद्धि के लिए करें ये अचूक उपाय, आर्थिक तंगी होगी दूर, मिलेगी तरक्की
यह भी पढ़ें – 
होंठ, ठुड्डी और भौहें, ये तीन अंग खोलते हैं महिलाओं के स्वभाव का राज़

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Dharma Aastha, Dharma Culture, Lord Ram

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें