Chaitra Navratri 2021: नवरात्रि के नौ दिन रखें इन बातों का ध्‍यान, जानें क्या करें क्या न करें 


नवरात्रि में मां दुर्गा का वाहन भविष्य की घटनाओं की तरफ संकेत होता है.

नवरात्रि में मां दुर्गा का वाहन भविष्य की घटनाओं की तरफ संकेत होता है.

Chaitra Navratri 2021: मान्यता है कि नवरात्रि के दिनों में मां (Maa Durga) के दर्शन और पूजन से विशेष फल मिलता है. जीवन में सफलता मिलती है और सुख-समृद्धि (Happiness And Prosperity) की प्राप्ति होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 6:51 AM IST
  • Share this:
Chaitra Navratri 2021: नवरात्र में भक्तजन नौ दिनों तक मां दुर्गा (Maa Durga) के अलग-अलग नौ स्‍वरूपों की आराधना करते हैं. मान्यता है कि नवरात्रि के दिनों में मां के दर्शन और पूजन से विशेष फल मिलता है. जीवन में सफलता मिलती है और सुख-समृद्धि (Happiness And Prosperity) की प्राप्ति होती है. इस मौके पर कई लोग घर में कलश स्थापित करते हैं और व्रत (Vrat) रखते हैं. साथ ही घर में मां के नाम की अखंड ज्योति भी जलाते हैं. नवरात्रि व्रत के दौरान कठोर अनुशासन का पालन करना होता है. साथ ही व्रत में संयम की भी जरूरत होती है.

नवरात्रि के इन नौ दिनों में कई मान्यताएं और परंपराएं प्रचलित हैं. हर कोई चाहता है कि देवी की पूजा पूरी श्रद्धा-भक्ति से हो, ताकि परिवार में सुख-शांति बनी रहे. आइए जानते हैं, इन नौ दिनों में क्या काम करें और किन चीजों से दूरी बनाएं. ताकि हम पर कृपा बनी रहे-

नवरात्रि पर जरूर करें ये काम

-नवरात्रि में प्रतिदिन देवी मां के दर्शन करने चाहिए. ऐसा करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं.
-नवरात्रि पर अगर आप 9 दिन के व्रत न रख सकें तो नवरात्रि के पहले और अंतिम दिन व्रत रखें और मां की पूजा-अर्चना करें. मान्‍यता है कि इससे जीवन में सफलता मिलती है.

-इन 9 दिनों में घर की साफ-सफाई का पूरा ध्‍यान रखना चाहिए.

-नवरात्रि पर कन्या भोजन जरूर कराया जाना चाहिए. मान्‍यता है कि इससे घर में अन्न की कमी नहीं होती.



इसे भी पढ़ें - Chaitra Navratri 2021: जानें किस दिन करें मां दुर्गा के किस स्वरूप की पूजा

नवरात्रि के 9 दिन ध्‍यान रखें ये बातें

-धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि में मांसाहारी भोजन नहीं करना चाहिए. साथ ही लहसुन, प्याज और मदिरा के सेवन से भी दूरी बनाकर रखें.

-नवरात्रि पर पक्षियों के लिए दाना पानी की व्यवस्था करनी चाहिए.

-घर आए अतिथि और भिक्षा के लिए आए व्‍यक्ति को आदर के साथ भोजन कराएं. इससे मां भगवती प्रसन्न होती हैं और भक्‍तों पर कृपा करती हैं.

-इस दौरान व्रत रखने वाले व्यक्ति को चमड़े से बनी वस्तुओं का उपयोग नहीं करना चाहिए.

-मां दूर्गा की आरती जरूर करें. माना जाता है कि पूजा के दौरान अगर कोई त्रुटी या कमी रह गई हो, तो वह आरती से पूर्ण हो जाती है.

इसे भी पढ़ें - Chaitra Navratri 2021: इस दिन करें घट स्थापना, जानें विधि और महत्व

-नवरात्रि में देवी मां की खंडित मूर्ति का उपयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए.

-व्रत रखने वाला व्यक्ति अपनी स्‍वच्‍छता का पूरा ध्‍यान रखे. साफ कपड़े पहनें और प्रति दिन स्नान जरूर करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज