होम /न्यूज /धर्म /Chaitra Navratri 2023: चैत नवरात्रि में कौन सा उपवास फायदेमंद? खास माना गया है यह दिन

Chaitra Navratri 2023: चैत नवरात्रि में कौन सा उपवास फायदेमंद? खास माना गया है यह दिन

चैत नवरात्रि 

चैत नवरात्रि 

Chaitra Navratri 2023: नवरात्रि का पावन त्योहार दुनिया भर में हिंदुओं द्वारा बहुत धूमधाम से मनाया जाता है. जानिए इन 9 द ...अधिक पढ़ें

धीरेन्द्र शुक्ला
चित्रकूट: इस साल चैत्र नवरात्रि की शुरुआत 22 मार्च से होने जा रही है. नवरात्रि में माता के 9 स्वरूपों की पूजा- अर्चना करने का विधान है. नवरात्रि को लेकर लोग मठ मंदिरों में तैयारी करने में जुटे हुए हैं. मां का दरबार सजने के लिए लगातार माता के सेवक मंदिर में फूल-माला से झालरों से मंदिर की शोभा बढ़ाने में लगे हुए हैं. नवरात्रि के नौ दिनों में माता के भक्त उपवास रखते हैं.

चैत्र की नवरात्रि में मां के भक्त 9 दिन का उपवास मां के लिए रहते हैं. लेकिन इन 9 दिनों में कौन सा व्रत खास होता है? इसकी जानकारी देते हुए चित्रकूट के महंत दिव्यजीवन दास भरत मंदिर ने बताया कि मां के दिनों में सबसे खास व्रत जिसके ऊपर शनि और राहु का दोष होता है, उस व्यक्ति को कालरात्रि का व्रत रखना चाहिए. इससे उसकी जीवन से जुड़ी हुई जो भी संकट बाधाएं होती है मां दुर्गा हर लेती हैं और उसके ऊपर कभी भी किसी प्रकार की बाधाएं नहीं आती हैं.

इसलिए कालरात्रि का व्रत रखने का एक ही दिन शुभ माना जाता है. यह व्रत मां के शुरुआत के दिन या आखिरी के दिन हर व्यक्ति को रखना चाहिए. ताकि जीवन की दिक्कतों से मुक्ति मिल सके.

आपके शहर से (लखनऊ)

जानें उपवास का समय
भरत मन्दिर के महंत दिव्य जीवन दास के मुताबिक़ चैत्र नवरात्रि का 7वां दिन 28 मार्च 2023 सप्तमी तिथि को मां कालरात्री की पूजा होगी. चैत्र नवरात्रि के आठवें दिन 29 मार्च 2023 अष्टमी तिथि को मां महागौरी की पूजा होगी. ये दिन उपवास के लिए बहुत ही ख़ास माना गया है. इस उपवास को सप्तमी के मध्य रात्रि से शुरू किया जा सकता है.

Tags: Chaitra Navratri, Chitrakoot News, Durga Pooja, UP news, Uttar pradesh news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें