होम /न्यूज /धर्म /Chandra Grahan 2021: सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण शुरू, जानें आखिर क्यों है ये इतना खास

Chandra Grahan 2021: सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण शुरू, जानें आखिर क्यों है ये इतना खास

इससे पहले इतना लंबा चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 को हुआ था.

इससे पहले इतना लंबा चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 को हुआ था.

Chandra graham 2021: इस साल के अंतिम और सबसे लंबे चंद्र ग्रहण (Biggest Lunar Eclipse) की शुरुआत हो गई है. धार्मिक और ...अधिक पढ़ें

    Chandra Grahan or Lunar Eclipse 2021: सदी का सबसे बड़ा और सबसे लंबा चंद्र ग्रहण (Longest Lunar Eclipse Of The Century) शुरू हो चुका है. कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा (Kartik Purnima) के दिन यानी आज चंद्रग्रहण (Chandra Grahan) वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लग चुका है. ज्‍योतिष शास्‍त्र और खगोलीय वैज्ञानिकों, दोनों ही के लिए यह चंद्रग्रहण कई मामले में खास (Important Information) बताया जा रहा है. ज्‍योतिष विशेषज्ञों का कहना है कि अलग-अलग राशि पर ग्रहण का असर मिला जुला दिखेगा. हालांकि, ज्‍यादातर ये अशुभ फल देने वाला ही रहेगा. ऐसे में सूतक काल में कई कार्यों को करने की मनाही होगी. जबकि वैज्ञानिक दृष्टिकोण से ग्रहण को एक खास खगोलीय घटना माना जा रहा है जो काफी लंबे समय तक देखा जा सकेगा.

    आइए जानते हैं कि 19 नवंबर को लगने वाले सबसे बड़े चंद्र ग्रहण से जुड़ी खास बातों को.

    Chandra Grahan 2021- चंद्र ग्रहण 2021 से जुड़ी खास बातें

    1. इस वजह से होगा इतना लंबा ग्रहण

    आंशिक चंद्रग्रहण चंद्रमा और धरती के बीच अधिक दूरी होने की वजह से लंबे समय तक दिखाई देगा. इस बार आंशिक चंद्र ग्रहण की अवधि 3 घंटा 28 मिनट और 24 सेकंड रहेगी.

    इसे भी पढ़ें : Chandra Grahan 2021: क्या आप जानते हैं कितने प्रकार का होता है चंद्रग्रहण? जानें किसके क्या हैं मायने

    2. 580 साल बाद होगा इतना लंबा चंद्रग्रहण   

    इससे पहले इतना लंबा चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 को लगा था. इस तरह कह सकते हैं कि 580 साल बाद इतना लंबा चंद्र ग्रहण लने जा रहा है. अगला इतनी लंबी अवधि वाला चंद्र ग्रहण 8 फरवरी 2669 को होगा.

    3. वृषभ राशि में होगा ग्रहण 

    19 नवंबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण वृषभ राशि में लग रहा है. इस समय वृषभ राशि में राहु का गोचर हो रखा है इसलिए सदी के सबसे बड़े चंद्र ग्रहण का सबसे अधिक प्रभाव वृषभ राशि पर पड़ेगा.

    4. सूतक काल की स्थिति

    19 नवंबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण को आंशिक ग्रहण माना जा रहा है और इसलिए सूतक नियमों का पालन नहीं किया जाएगा. सूतक काल पूर्ण ग्रहण की स्थिति में ही प्रभावी माना जाता है.

    इसे भी पढ़ेंः Chandra Grahan 2021: 19 नवंबर को लगेगा सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, जानें किन राशियों पर पड़ेगा बुरा असर

    5. यहां दिखेगा चंद्रग्रहण 2021

    19 नवंबर को लगने वाला चंद्रग्रहण भारत के पूर्वोत्तर राज्य असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा. जबकि अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर के कई क्षेत्रों में ये दिखाई पड़ेगा. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Chandra Grahan, Lifestyle, Lunar eclipse, Religion

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें