होम /न्यूज /धर्म /Chhath puja 2021 Samagri : पहली बार कर रहे हैं छठ तो पहले से जुटा लें ये सामग्री, पूजा में नहीं आएगी परेशानी

Chhath puja 2021 Samagri : पहली बार कर रहे हैं छठ तो पहले से जुटा लें ये सामग्री, पूजा में नहीं आएगी परेशानी

छठ पूजा की सामग्री के लिए पहले से लिस्‍ट तैयार करना जरूरी होता है.

छठ पूजा की सामग्री के लिए पहले से लिस्‍ट तैयार करना जरूरी होता है.

Chhath Puja 2021 Samagri : सूर्य और छठी मैया की उपासना का महापर्व छठ (Chhath) दिवाली के 6 दिन बाद से शुरू हो जाता है. ...अधिक पढ़ें

    Chhath 2021 Samagri : छठ (Chhath) पूजा की विशेष सामग्री के लिए पहले से लिस्‍ट तैयार करना जरूरी होता है. कुछ जरूरी चीजें आप जितनी जल्‍दी खरीद दें उतना बेहतर होता है. व्रती के लिए वस्‍त्र आदि पहले से ले लें तो बाद में सामग्री (Samagri) जुटाने में समस्‍या नहीं आती. अगर आप पहली बार या अकेले व्रत करने वाले हैं और सामग्रियों को जुटाने को लेकर परेशान हैं तो यहां हम आपको छठ पर्व की सामग्रियों की लिस्‍ट बनाने में आपकी मदद करेंगे. तो आइए जानते हैं कि छठ पूजा में किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है और किन चीजों को पहले से व्‍यवस्थित कर लेना बेहतर होता है.

    छठ पूजा की सामग्री

    -व्रती और घर के अन्‍य सदस्‍यों को पूजा के दौरान पहनने के लिए नए कपड़े. व्रती के लिए 3 दिन की साड़ी या धोती पहले से जरूर खरीद लें.

    आपके शहर से (पटना)

    -छठ पूजा में प्रसाद रखने के लिए बांस का दो बढा़ टोकरी.

    -बांस या पीतल का सूप जो सूरज को अर्घ देने के काम आएगा.

    इसे भी पढ़ लें : Chhath Puja 2021 Rules: छठ पूजा में इन 10 नियमों का पालन है जरूरी, गलती होने पर भंग हो जाता है व्रत

     -दूध और गंगा जल रखने के लिए एक सेट ग्‍लास, लोटा और थाली.

    -नारियल जिसमें पानी होना जरूरी है.

    -पत्‍ते लगे 5 गन्‍ने.

    -चावल.

    -एक दर्जन मिट्टी के दीपक.

    -धूपबत्‍ती, कुमकुम, बत्‍ती.

    -पारंपरिक सिंदूर.

    -चौकी.

    ये भी पढ़ें: Diwali 2021: दिवाली पर कम लागत में इन तरीकों से सजाएं अपना घर

    -केले के पत्‍ते.

    -केला, सेव, सिंघाड़ा, हल्‍दी, मूली और अदरक का पौधा.

    -शकरकंदी और सुथनी.

    -पान और सुपारी.

    -शहद.

    -मिठाई.

    -गुड, गेहूं और चावल का आटा.

    -गंगा जल और दूध.

    प्रसाद की भी कर लें तैयारी

    छठ के प्रसाद में लेंगुड़ और गेहूं के आटे से बना ठेकुआ प्रमुख प्रसाद होता है. इसके बिना छठ पूजा अधूरी मानी जाती है. इसके अलावा चावल के आटे से बना लड्डू जिसे स्थानीय भाषा में कसार कहते हैं इसे बनाने की तैयारियां भी शुरू कर देनी चाहिए. बता दें कि छठ के एक दिन पहले से प्रसाद बनाने का काम शुरू होता है दूसरे दिन बांस की टोकरी में पूजा का सामान रखकर पुरुष उसे अपने सिर पर लेकर घाट तक पहुंचाते हैं. यहां व्रती सूरज को अर्घ्य देने के लिए पानी में सूरज की ओर मुंह कर प्रणाम करती हैं और उनके अस्‍त होने और उदय होने का इंतजार करती हैं. इसक बाद सूरज को दूध से अर्घ्य देने की परिपाटी है. अर्घ्य परिवार के अन्‍य सदस्‍य भी दे सकते हैं. पूरी पूजा के दौरान इस बात का खास ध्यान रखा जाता है कि कोई भी सामग्री जूठी न हो और शुद्ध रहे.  (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Chhath Puja, Chhath Puja 2021, Lifestyle

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें